Ford Assembly election results 2017 Akamai CP Plus
  1. You Are At:
  2. होम
  3. खेल
  4. अन्य खेल
  5. इंडियन सुपर लीग: अपने घर में लगातार दूसरी हार से बचना चाहेंगे डायनामोज

इंडियन सुपर लीग: अपने घर में लगातार दूसरी हार से बचना चाहेंगे डायनामोज

दिल्ली डायनामोज को बुधवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में जमशेदपुर एफसी का सामना करना है। अपने घर में इससे पहले नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के हाथों हार चुकी दिल्ली की टीम जमशेदपुर को हराकर इंडियन सुपर लीग में जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी।

Reported by: IANS [Published on:05 Dec 2017, 6:54 PM IST]
दिल्ली डायनामोज के...- Khabar IndiaTV
दिल्ली डायनामोज के खिलाड़ी अनस

नई दिल्ली: दिल्ली डायनामोज को बुधवार को जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में जमशेदपुर एफसी का सामना करना है। अपने घर में इससे पहले नार्थईस्ट युनाइटेड एफसी के हाथों हार चुकी दिल्ली की टीम जमशेदपुर को हराकर इंडियन सुपर लीग में जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी। साथ ही उसका लक्ष्य घर में लगातार दूसरी हार से बचना भी होगा। दिल्ली ने एफसी पुणे सिटी को उसी के घर में 3-2 से हराते हुए लीग के चौथे सीजन का शानदार आगाज किया था लेकिन उसके बाद उसकी किस्मत मानो रूठ गई है। अपने अगले मैच में उसे बेंगलुरू एफसी के हाथों 1-4 से हार मिली थी। उम्मीद थी कि दिल्ली की टीम अपने घर में सीजन के पहले मैच के साथ वापसी करेगी लेकिन नार्थईस्ट ने पहले हाफ में किए गए दो गोलों की मदद से उसे हार पर मजबूर किया।

इस अहम मैच से पहले मंगलवार को आयोजित संवाददाता सम्मेलन में दिल्ली के मुख्य कोच मिग्वेल पुर्तगाल ने लगातार जीत हासिल करने के लिए खिलाड़ियों की मानसिक शक्ति के महत्व पर बल दिया।

पुर्तगाल ने कहा, "बीते मैच में हमारे हाथ गोल करने के तीन-चार मौके आए थे लेकिन हम कुछ नहीं कर सके। हमारी रक्षापंक्ति ने गलती की। मेरे लिए विपक्षी टीम से एक गोल अधिक करना जरूरी है। मैंने हमेशा से यही फिलोसॉफी अपनाई है। मैंने हमेशा एक गोल अधिक चाहा है।"

नार्थईस्ट के खिलाफ लालियानजुआला चांग्ते को बेंच पर बैठाने के फैसले के बारे में पुर्तगाल ने कहा, "वह गोल करते हैं लेकिन हम चाहते हैं कि वह कभी-कभी बेंच से शुरुआत करें।"

पुणे सिटी को 3-2 से हराने के बाद से पुर्तगाल की टीम दोनों मैच हार चुकी है और इस दौरान उसने कुल आठ गोल खाए हैं और सिर्फ एक गोल कर सकी है।

दूसरी ओर, इस साल आईएसएल में पदार्पण कर रही जमशेदपुर की टीम ने न तो गोल खाया और न ही किया है। उसने तीन मैच खेले हैं और तीनों ड्रॉ रहे हैं। उसने केरला ब्लास्टर्स को उसी के घर में बराबरी पर रोका और फिर नार्थईस्ट को उसी के घर में गोलरहित बराबरी पर रोका। इसके बाद उसने अपने घर में हुए पहले मैच में एटीके को बराबरी पर रोका।

स्टीव कोपेल जमशेदपुर के कोच हैं। वह बीते सीजन में केरल के साथ थे। कोपेल को इस बात की चिंता नहीं कि उनकी टीम अब तक खाता नहीं खोल पाई है। वह इस बात से खुश हैं कि युवा टीम ने अब तक तीन मैचों में मजबूत टीमों को बराबरी पर रोका है।

कोपेल ने कहा, "मेरी टीम युवा है। यह आईएसएल में कभी नहीं खेली। इस लिहाज से तीन बराबरी के मुकाबले महान उपलब्धि हैं। हां, हमें गोल करने पर अच्छा लगेगा। हम यह सोचकर मैदान पर बिल्कुल नहीं जाते कि हमें गोल नहीं करना है। अब तक हमारा सामना मजबूत टीमों के साथ हुआ है। ऐसी टीमें जिन्होंने आईएसएल में काफी खेला है और हमसे अधिक अनुभव है।"

कोपेल जमशेदपुर की पिच को लेकर नाखुश दिखे। उनका मानना है कि उनकी टीम गोल नहीं कर सकी, इसके पीछे खराब प्लेइंग सर्फेस भी एक कारण है। बकौल कोपेल, "हमारा पहला घरेलू मैच कठिन सर्फेस पर था। हम गोल करना चाहते थे लेकिन हुआ नहीं। अब यह भी सच है कि 4-4 स्कोरलाइन से बेहतर तो 0-0 स्कोरलाइन है। निश्चित तौर पर हमें मैच जीतने के लिए गोल करने होंगे।"

कोपेल ने यह भी कहा कि दिल्ली के फार्म में गिरावट से उनकी टीम को किसी प्रकार की बढ़त नहीं मिलती। उन्होने कहा, "मैंने हमेशा से कहा है कि बीता मैच मायने नहीं रखता। यह अगले दिन खिलाड़ियों के दिमाग में होता है लेकिन अगले दिन के परिणाम पर इसका कोई असर नहीं होता।

You May Like

लाइव स्कोरकार्ड