1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. IPL 2017: धोनी और पुणे मालिक के रिश्ते हो गए बद से बदतर, टीम से बाहर भी हो सकते हैं

IPL 2017: धोनी और पुणे मालिक के रिश्ते हो गए बद से बदतर, टीम से बाहर भी हो सकते हैं

मंगलवार को IPL के 9वें मैच में जब राइज़िंग पुणे सुपरजाइंट्स और डेहली डेयरडेविल्स आमने सामने थीं तब दो हस्तियां ऐसी भी थी जो पर्दे के पीछे अपनी -अपनी ताक़त आज़मा रही थीं।

Feeroz Shaani [Updated:12 Apr 2017, 6:00 PM IST]
IPL 2017: धोनी और पुणे मालिक के रिश्ते हो गए बद से बदतर, टीम से बाहर भी हो सकते हैं

नयी दिल्ली: मंगलवार को IPL के 9वें मैच में जब राइज़िंग पुणे सुपरजाइंट्स और डेहली डेयरडेविल्स आमने सामने थीं तब दो हस्तियां ऐसी भी थी जो पर्दे के पीछे अपनी -अपनी ताक़त आज़मा रही थीं। एक तरफ धोनी थे तो दूसरी तरफ़ RPG के चैयरमैन हर्ष गोयनका जिन्होंने टीम के पहले मैच के बाद ऐसा ट्वीट किया था कि धोनी के फ़ैंस आज तक आग बबूला हैं।

OMG! अंपायरिंग से नाराज़ बांग्लादेशी बॉलर ने दे डाले 4 बॉल पर 92 रन, जानें क्या है मामला

दरअसल मंगलवार को खेले गए दिल्ली डेयरडेविल्स के खिलाफ मैच में धोनी और पुणे के मैनेजमेंट के बीच दूरियां जग ज़ाहिर होती दिखीं। इस मैच में नियमित कप्तान स्टीवन स्मिथ नहीं खेले. उनकी जगह टीम की कप्तानी अजिंक्य रहाणे ने की, जबकि एमएस धोनी टीम में थे और खेल रहे थे। धोनी जैसे अनुभवी कप्तान के रहते हुए अजिंक्य रहाणे से कप्तानी कराने की बात धोनी-फैंस को पची नही है। 

रहाणे की कप्तानी में खेले गए इस मैच में पुणे को करारी हार का सामना करना पड़ा। धोनी मैच फ़िनिशर माने जाते हैं लेकिन इस मैच में भी वह कुछ नहीं कर पाए। बल्कि जब मैच जब बुरी तरह फंस चुका था तब धोनी के चेहरे पर शिकन साफ़ देखी जा सकती थी। धोनी ने इस मैच में 14 बॉलों पर सिर्फ़ 11 रन बनाए जिसमें एक छक्का शामिल था जबकि उस वक़्त दरकार थी ताबड़तोड़ बल्लेबाड़ी की।

आपको बता दें कि पुणे के पहले मैच में कप्तान स्टीव स्मिथ ने अंतिम ओवर में चौक्के छक्के लगाकर टीम को जीत दिलाई थी हालंकि दूसरे छोर पर धोनी थे जो ऐसा कुछ नहीं कर पा रहे थे। इसके बाद हर्ष ने ट्वीट कर कहा-''स्मिथ ने साबित कर दिया कि जंगल का राजा कौन है।"

इस ट्वीट से आहत होकर धोनी की पत्नी ने साक्षी ने सोमवार को इंस्टाग्राम पर पोस्ट शेयर की थी जिसमें लिखा था, 'कर्मा का नियम'

''जब पक्षी जिंदा होते हैं, तो चींटी को खाते हैं, पक्षी के मरने के बाद, चींटी उन्हें खाती है। समय और परिस्थिति कभी भी बदल सकती है, इसलिए जिंदगी में कभी किसी को नीचा नहीं दिखाना चाहिए ना ही किसी को दुख पहुंचाना चाहिए। आप आज ताक़तवर हो सकते हैं, लेकिन समय आपसे ज्यादा बलवान है। एक पेड़ से लाखों माचिस बनती हैं, लेकिन माचिस की एक तीली लाखों पेड़ जलाकर ख़ाक कर सकती है  इसलिए अच्छे बनिए और अच्छा करिए।'

अब जबकि धोनी के बल्ले से रन नहीं निकल रहे हैं, ऐसी आशंका है कि टीम मैनेजमेंट कड़ा फ़ैसला करके कहीं धोनी को डग आउट में न बैठा था। परसों रॉयल चैलेंजर्स बोंगलोर ने पंजाब के ख़िलाफ़ मैच में दिग्गज बल्लेबाज़ क्रिस गेल को बाहर बैठा दिया था जो अब तक दो मैचों में सिर्फ़ 32 रन ही बना सके हैं।

You May Like