Ford Assembly election results 2017 Akamai CP Plus
  1. You Are At:
  2. होम
  3. खेल
  4. क्रिकेट
  5. भारतीय क्रिकेट के 85 साल के इतिहास में टीम इंडिया ने पहली बार किया ये 'विराट' कारनामा

भारतीय क्रिकेट के 85 साल के इतिहास में टीम इंडिया ने पहली बार किया ये 'विराट' कारनामा

आज दिन यानि 6 दिसंबर की तारीख भारतीय क्रिकेट के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से लिखी जाएगी क्योंकि विराट एंड कपंनी ने वो कारनामा किया जो भारतीय क्रिकेट के पिछले 85 साल के इतिहास में आजतक नहीं हुआ।

Written by: Shradha Bagdwal [Updated:06 Dec 2017, 1:53 PM IST]
विराट कोहली- Khabar IndiaTV
विराट कोहली

नई दिल्ली: आज दिन यानि 6 दिसंबर की तारीख भारतीय क्रिकेट के इतिहास में स्वर्णिम अक्षरों से लिखी जाएगी क्योंकि विराट एंड कपंनी ने वो कारनामा किया जो भारतीय क्रिकेट के पिछले 85 साल के इतिहास में आजतक नहीं हुआ। विराट की कप्तानी में भारत लगातार 8 सिरीज़ जीत चुका है और फिलहाल भारत और श्रीलंका के बीच खेला जा रहा कोटला टेस्ट अगर ड्रॉ भी रहता है तो भी टीम इंडिया 1-0 से सिरीज़ पर कब्जा जमाकर टेस्ट में लगातार 9 सिरीज़ जीतने का रिकॉर्ड कायम कर लेगी।

​ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की बराबरी की

लगातार 9 टेस्ट सिरीज़ जीतकर टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड की बराबरी कर ली है। आपको बता दें ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के नाम लगातार 9 टेस्ट जीतने का रिकॉर्ड दर्ज है। टीम इंडिया ने इस दौरान अपने घर में 6 टेस्ट सिरीज़, श्रीलंका में 2 और वेस्टइंडीज में 1 सिरीज़ जीती है। इसके अलावा विराट ने गांगुली की 21 टेस्ट जीत की बराबरी भी कर ली है।विराट कोहली

जीत के सबसे बड़े नायक कप्तान कोहली
विराट कोहली हमेशा टीम को फ्रंट से लीड करने में विश्वास करते हैं। विराट ने श्रीलंका के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सिरीज़ में कुल 610 रन बनाए। इसके अलावा कोहली ने 2016-17 में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सिरीज़ में 655 और 2014-15 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ सिरीज़ 692 रन बना चुके हैं। कोटला टेस्ट में कोहली ने पहली पारी में 243 रनों की बेहतरीन पारी खेली और लगातार तीन दोहरे शतक लगाने वाले पहले कप्तान बने।विराट कोहली

17 महीने में जड़े 6 दोहरे शतक
टेस्ट क्रिकेट में जून 2016 से पहले टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली के नाम 23 हाफ सेंचुरी और 11 सेंचुरी थीं यानी 17 महीने पहले तक उनकी एक भी डबल सेंचुरी नहीं थीं। इस दौरान कोहली का खेल निखरता गया और वह 2016-2017 के बीच अपने खेल को एक अलग ही मुकाम पर ले गए। कोहली ने जुलाई 2016 के बाद से अब तक 11 बार 50 से ऊपर का स्कोर बनाया है और इनमें से 9 को उन्होंने सेंचुरी में बदला है लेकिन कमाल की बात यह है कि इन 9 में से छह को उन्होंने दोहरे शतक में तब्दील किया है।विराट कोहली

कोहली ने अपनी पहली डबल सेंचुरी जुलाई 2016 में ऐंटिगा टेस्ट में वेस्ट इंडीज के खिलाफ लगाई थी जिसकी संख्या अब 6 हो चुकी है। दिल्ली टेस्ट के दूसरे दिन 243 रनों की पारी खेलकर उन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में अपने बेस्ट स्कोर 235 को भी पीछे छोड़ दिया। टेस्ट में 20 शतक बना चुके कोहली अब बतौर कप्तान सबसे ज्यादा दोहरे शतक बना चुके हैं। उन्होंने वेस्ट इंडीज के दिग्गज ब्रायन लारा के 5 दोहरे शतकों का रिकॉर्ड तोड़ा है।

You May Like

लाइव स्कोरकार्ड