ford
  1. You Are At:
  2. खबर इंडिया टीवी
  3. पैसा
  4. बिज़नेस
  5. रियल एस्‍टेट सेक्‍टर में आए अच्‍छे दिन, देश के सात शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या घटकर हुई 6.85 लाख

रियल एस्‍टेट सेक्‍टर में आए अच्‍छे दिन, देश के सात शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या घटकर हुई 6.85 लाख

लंबे समय से मंदी की मार झेल रहे रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को आशा की किरण दिखाई देने लगी है। देश के सात प्रमुख शहरों में बिना बिके मकानों की 6.85 लाख इकाई रही

Sachin Chaturvedi [Published on:26 Nov 2017, 4:07 PM IST]
रियल एस्‍टेट सेक्‍टर में आए अच्‍छे दिन, देश के सात शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या घटकर हुई 6.85 लाख- IndiaTV Paisa
रियल एस्‍टेट सेक्‍टर में आए अच्‍छे दिन, देश के सात शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या घटकर हुई 6.85 लाख

नयी दिल्ली। लंबे समय से मंदी की मार झेल रहे रियल एस्‍टेट सेक्‍टर को आशा की किरण दिखाई देने लगी है। देश के सात प्रमुख शहरों में बिना बिके मकानों की संख्या सितंबर तिमाही के आखिर में 6.85 लाख इकाई रही जो कि एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में नौ प्रतिशत कम है। एनारॉक प्रोपर्टी की एक रिपोर्ट में यह निष्कर्ष निकाला गया है।

इसके अनुसार सितंबर तिमाही में सबसे अधिक बिना बिके मकान राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र एनसीआर हैं, जहां इनकी संख्‍या दो लाख रही। हालांकि पिछले साल समान अवधि की तुलना में यह संख्या 12,000 कम है। एनारॉक प्रोपर्टी कसंलटेंट्स के चेयरमैन अनुज पुरी ने कहा, ‘देश के सभी प्रमुख शहरों की बात की जाए तो सबसे अधिक अनबिके कमकान एनसीआर में हैं। क्षेत्र के विभिन्न शहरों में लगभग दो लाख मकान अनबिके हैं।’

उन्होंने कहा कि अनबिकी इकाइयों में सबसे बड़ा हिस्सा ग्रेटर नोएडा का रहा जबकि उसके बाद गुड़गांव आता है। इस लिहाल से अन्य प्रमुख शहरों में मुंबई मेट्रोपोलिटन क्षेत्र में 1.18 लाख इकाइयां, बेंगलुरू में 1.04 लाख, पुणे में 1.05 लाख, चेन्नई में 28000 व हैदराबाद में 27000 मकान अनबिके हैं।

You May Like