Ford Assembly election results 2017
 
  1. You Are At:
  2. होम
  3. लाइफस्टाइल
  4. हेल्थ
  5. ख़बरदार! ज़्यादा पानी पीना हो सकता है जानलेवा

ख़बरदार! ज़्यादा पानी पीना हो सकता है जानलेवा

डॉक्टर, वैज्ञानिक और हमारे घर वाले अक़्सर हमसे दिन में कम से कम आठ गिलास पानी पीने को कहते हैं। उनका मानना है कि ये ज़रुरी होता है लेकिन सच्चाई क्या है? क्या आठ गिलास

India TV News Desk [Published on:14 Oct 2016, 8:04 AM IST]
water- Khabar IndiaTV
water

डॉक्टर, वैज्ञानिक और हमारे घर वाले अक़्सर हमसे दिन में कम से कम आठ गिलास पानी पीने को कहते हैं। उनका मानना है कि ये ज़रुरी होता है लेकिन सच्चाई क्या है? क्या आठ गिलास पानी पीना वाक़ई ज़रुरी है?

एक अध्ययन में ये बात सामने आई है कि प्यास न लगने पर भी ज़बरदस्ती पानी पीना जानलेवा साबित हो सकता है। वैज्ञानिकों का दावा है कि ज़्यादा पानी पीने से मस्तिष्क का तंत्र गड़बड़ा जाता है और लोगों को पानी से नशा होने लगता है।

बहुत ज़्यादा पानी पीने से ख़ून में सोडियम (नमक) का स्तर कम हो जाता है। इससे सुस्ती छाने लगती है, मतली होने लगती है, चक्कर आने लगते हैं और यहां तक कि कोमा में जाने का ख़तरा भी हो जाता है। अगर इसका फ़ौरन इलाज न किया गया तो कुछ ही घंटों में मौत भी हो सकती है। 

मलबर्न की मोनाश यूनिवर्सिटी के डॉ. माइकल फ़ैरल का कहना है कि उतना ही पानी पीना चाहिये जितना शरीर मांगे, यानी प्यास के मुताबिक ही पानी पीना चाहिये, न ज़्यादा न कम। 

उन्होंने कहा कि ऐसा कई बार हुआ है कि मैराथन रेस में दोड़ने वाले एथलीटों से खूब पानी पीने को कहा गया, उन्होंने आदेश का पालन किया और नतीजन उनकी मौत हो गई।

एक स्टडी में कुछ लोगों को प्यास लगने पर पानी पिलाया गया। फिर उनसे और पानी पीने को कहा गया लेकिन उन्हें पानी गुटकने में तकलीफ होने लगी।

You May Like