1. Home
  2. भारत
  3. उत्तर प्रदेश
  4. 'मेरे आंसुओं को कमज़ोरी ना समझना', MLA की फटकार के बाद लेडी IPS का जवाब

'मेरे आंसुओं को कमज़ोरी ना समझना', MLA की फटकार के बाद लेडी IPS का जवाब

एक विधायक लेडी IPS को फटकारते रहे, लेडी IPS डांट सुनती रही और रोती रही। ये खबर यूपी के गोरखपुर से है जहां योगी आदित्यनाथ के विधायक महिला IPS अफसर से बदसलूकी करते नजर आए। मीडिया के कैमरें वहां मौजूद थे वो विधायक...

India TV News Desk [Updated:08 May 2017, 7:13 PM IST]
'मेरे आंसुओं को कमज़ोरी ना समझना', MLA की फटकार के बाद लेडी IPS का जवाब

गोरखपुर: एक विधायक लेडी IPS को फटकारते रहे, लेडी IPS डांट सुनती रही और रोती रही। ये खबर यूपी के गोरखपुर से है जहां योगी आदित्यनाथ के विधायक महिला IPS अफसर से बदसलूकी करते नजर आए। मीडिया के कैमरें वहां मौजूद थे वो विधायक की एक एक फटकार को रिकॉर्ड कर रहे थे। लेडी IPS के सब्र का बांध जब टूटा तो उनके आंखों से आंसू आ गए।

ये था पूरा मामला-

दरअसल सड़क पर जाम खुलवाने के दौरान गोरखपुर के बीजेपी विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल ने महिला आईपीएस चारू निगम को सरेआम ऐसी फटकार लगाई कि आईपीएस की आंखों से आंसू छलक पड़े। नेताजी ने सरेआम गोरखपुर की सीओ की ऐसी बेइज्जती की कि वो रूआंसा हो गईं।

आईपीएस चारू निगम एंटी रोमियो दस्ते की प्रभारी के साथ ही गोरखपुर की सीओ भी हैं। मामला चिलुआताल थाना के कोइलहवां गांव का है जहां ग्रामीण महिलाएं शराब की दुकान के विरोध में सड़क जामकर हंगामा कर रहीं थीं। चारू निगम ने मौके पर पहुंच कर रास्ता खुलवाया। इस दौरान गुस्साई महिलाओं ने आईपीएस चारू निगम पर हमला कर दिया। महिलाओं ने लाठी और पत्थर मारकर आईपीएस चारू निगम को घायल तक कर दिया जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर आरोपी प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया।

सपा में वर्चस्व की लड़ाई, शिवपाल के करीबी सहित 5 नेताओं को निकाला

इस बीच ग्रामीणों को हिरासत में लेने की सूचना पर मौके पर पहुंचे बीजेपी विधायक ने ग्रामीणों के साथ दोबारा सड़क जाम कर दिया। इसके बाद एसपी सिटी और सिटी मजिस्ट्रेट के साथ मौके पर पहुंची आईपीएस चारू निगम को बीजेपी विधायक ने जमकर फटकार लगा दी। महिला आईपीएस को अपनी बात रखने का मौका भी विधायक ने नहीं दिया।

Facebook पर बयां किया दर्द

सत्ताधारी विधायक की बदतमीजी से आहत महिला आपीएस की आंखों में आंसू आ गए। महिला आईपीएस अपने आंसुओं को छिपाने की कोशिश करती रहीं लेकिन मीडिया के कैमरों ने आईपीएस के दर्द को कैद कर लिया। इसके बाद सीओ चारू निगम ने फेसबुक पर अपना दर्द एक शेर के जरिए बयां किया...

मेरे आँसुओं को मेरी कमज़ोरी न समझना,

कठोरता से नहीं कोमलता से अश्क झलक गये।

महिला अधिकारी हूँ तुम्हारा गुरूर न देख पायेगा,

सच्चाई में है ज़ोर इतना अपना रंग दिखलाएगा।

वहीं, बीजेपी विधायक राधा मोहन दास अग्रवाल  का तर्क है कि सीओ चारू निगम ने प्रेगनेंट महिला, बच्चों पर लाठीचार्ज करवाया इसलिए वो अफसर पर गुस्सा हो गए जबकि चारू निगम इस आरोप से इनकार कर रही हैं।

You May Like