1. Home
  2. भारत
  3. उत्तर प्रदेश
  4. सहरानपुर जिले में अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर सांप्रदायिक बवाल, कई घायल

सहरानपुर जिले में अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर सांप्रदायिक बवाल, कई घायल

यूपी के सहारनपुर जिले में गुरुवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर की शोभायात्रा निकालने के बवाल ने सांप्रदायिक रूप ले लिया। पथराव व आगजनी में कई लोग घायल हैं। सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्र के सड़क दूधली में डॉ. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने...

IANS [Updated:21 Apr 2017, 11:00 AM]
सहरानपुर जिले में अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर सांप्रदायिक बवाल, कई घायल - India TV

उत्तर प्रदेश: यूपी के सहारनपुर जिले में गुरुवार को डॉ. भीमराव अंबेडकर की शोभायात्रा निकालने के बवाल ने सांप्रदायिक रूप ले लिया। पथराव व आगजनी में कई लोग घायल हैं। सहारनपुर के थाना जनकपुरी क्षेत्र के सड़क दूधली में डॉ. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर दो संप्रदाय में गाली-गलौज, पथराव, लूटपाट, आगजनी की घटना हुई।

पथराव में चार भाजपा कार्यकर्ता घायल हुए। इस बवाल में कमिश्नर की गाड़ी तोड़ दी गई। यहां हाइवे पर तोड़फोड़ के चलते सहारनपुर-रूड़की-देहरादून हाइवे पर वाहनों का आवागमन रुक गया। तनाव का असर शहर पर भी पड़ा है। बाजारों में एकाएक सन्नाटा पसर गया। पूरे जिले में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है। 

डीआईजी जितेंद्र कुमार शाही ने आसपास के जनपदों से पुलिस बल मंगवाया है। प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था दलजीत चौधरी ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है। उनका कहना है कि वहां शोभा यात्रा को लेकर अनुमति नहीं दी गई थी। घटना में जो भी दोषी हैं, उनके खिलाफ सख्त कार्रवाइ की जाएगी। 

प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार, सड़क दूधली में डा. भीमराव अंबेडकर शोभायात्रा निकालने को लेकर भाजपा सांसद राघव लखन पाल शर्मा, पूर्व विधायक राजीव गुंबर आदि भाजपा नेता आज सुबह से ही प्रशासन से अनुमति लेने के लिए प्रयासरत थे। दो घंटे तक चली बैठक में तय हुआ कि शोभायात्रा गांव के बाहर से ही निकाली जाएगी। शोभा यात्रा शुरू हुई तो उसे गांव में प्रवेश दे दिया गया, फिर क्या था कि एक विशेष संप्रदाय के लोगों ने इसको लेकर गाली-गलौच के साथ पथराव शुरू कर दिया।

पथराव में चार भाजपा कार्यकर्ता घायल हो गए। मौके पर डीएम एमएस कमाल व एसएसपी लवकुमार भी पहुंच गए। यहां पर इन सभी ने बवाल कर रहे लोगों को काफी समझाने का प्रयास किया पर कोई नहीं माना। पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भिजवाया। कुछ ही देर बाद एकाएक फिर पथराव शुरू हो गया। सड़क दूधली गांव के अंदर व हाइवे स्थित दुकानों में लूटपाट कर उनमें तोड़फोड़ की गई। कई दुकानों में आगजनी भी की गई। 

कमिश्नर एमपी अग्रवाल मौके पर पहुंचे तो उनकी गाड़ी पर भी पथराव किया गया, जिस कारण उनकी गाड़ी के शीशे टूट गए। हाइवे पर पथराव, आगजनी की घटना होने से सहारनपुर से रुड़की व देहरादून जा रहे वाहन शहर के चैराहे पर ही रोक दिया। सड़क दूधली में हिंसा की सूचना ने इस कदर जोर पकड़ा कि शहर के मुख्य बाजारों में एकाएक सन्नाटा पसर गया है। अभी मौके पर स्थिति तनावपूर्ण है। 

ये भी पढ़े

​​

Read Complete Article
Write a comment
Gold Contest 2017