1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. तमिलनाडु: CM पलानीसामी कल विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे

तमिलनाडु: CM पलानीसामी कल विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे

चेन्नई: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री इडाप्पडी के पलानीस्वामी कल विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे। आखिरी मिनट पर कोई बड़ा उलटफेर न हो तो उम्मीद की जा रही है कि सरकार विश्वास मत हासिल कर लेगी।

Bhasha [Updated:17 Feb 2017, 10:26 PM IST]
तमिलनाडु: CM पलानीसामी कल विधानसभा में बहुमत साबित करेंगे - India TV

चेन्नई: तमिलनाडु के मुख्यमंत्री इडाप्पडी के पलानीस्वामी कल विधानसभा में अपना बहुमत साबित करेंगे। आखिरी मिनट पर कोई बड़ा उलटफेर न हो तो उम्मीद की जा रही है कि सरकार विश्वास मत हासिल कर लेगी।

(देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें)

विरोधियों के मुश्किल खड़ी करने से पहले अपने ही पलानीस्वामी की मुश्किल बढ़ा सकते हैं। विश्वास मत की पूर्व संध्या पर पलानीस्वामी गुट को आज उस वक्त झटका लगा जब विधायक और राज्य के पूर्व डीजीपी, आर नटराज ने कहा कि वे मुख्यमंत्री के विश्वास प्रस्ताव के खिलाफ मतदान करेंगे।

नटराज के इस कदम से 234 सदस्यों वाली विधानसभा में पलानीस्वामी के कथित समर्थक विधायकों की संख्या कम हो कर 123 गई है। अन्नाद्रमुक ने वरिष्ठ पार्टी नेता के ए सेनगोट्टायन को सदन में पार्टी का नेता चुनाव है।

उधर, द्रमुक के कार्यकारी अध्यक्ष एम के स्टालिन ने कहा कि उनकी पार्टी कल पलानीस्वामी सरकार के विश्वास मत के खिलाफ मतदान करेगी जबकि विश्वास मत को लेकर कांग्रेस ने अभी रूख साफ नहीं किया है। तमिलनाडु कांग्रेस समिति के प्रमुख सू थिरूनावुक्करासर ने कहा कि पार्टी आला कमान की सलाह के बाद वोटिंग पर कल फैसला किया जाएगा।

नटराज ने कहा, मैं इदाप्पडी के पलानीस्वामी सरकार के विश्वास मत के प्रस्ताव के खिलाफ मतदान के लिए विवश हूं। मायापोर विधायक नटराज ने कहा, मैंने अपने विधानसभा क्षेत्र में लोगों से बात की और उनमें से अधिकतर की राय है कि ओ पनीरसेल्वम की सरकार को बने रहना चाहिए और मुझे विधानसभा के लोगों की राय को विधानसभा में प्रतिबिंबित करना होगा।

नटराज ने एक सवाल के जवाब में कहा कि वो इसे विश्वास मत के तौर पर नहीं बल्कि अंत:करण के मत के तौर पर देखता है। नटराज के इस कदम से पहले पलानीस्वामी ने 124 विधायकों के समर्थन का दावा करते हुए कहा था कि उनकी सरकार टिकी रहेगी जबकि उनके प्रतिद्वंद्वी और पूर्व मुख्यमंत्री ओ पनीरसेल्वम ने शशिकला और उनके परिवार के खिलाफ तब तक अपनी जंग जारी रखने का फैसला किया है जब तक अम्मा (जयललिता) का शासन बहाल नहीं हो जाता।

Related Tags:

You May Like

Write a comment

Promoted Content