1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. उत्तर प्रदेश में फिर गरमाया प्रोन्नति में आरक्षण मुद्दा, 11 नवंबर को शक्ति प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश में फिर गरमाया प्रोन्नति में आरक्षण मुद्दा, 11 नवंबर को शक्ति प्रदर्शन

उत्तर प्रदेश में प्रोन्नति में आरक्षण का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है। समर्थक और विरोधी दोनों ही संगठनों ने 11 नवम्बर को लखनऊ में रैली के आयोजन का ऐलान किया है।

IANS [Published on:18 Oct 2016, 1:03 PM IST]
उत्तर प्रदेश में फिर गरमाया प्रोन्नति में आरक्षण मुद्दा, 11 नवंबर को शक्ति प्रदर्शन - India TV

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में प्रोन्नति में आरक्षण का मुद्दा एक बार फिर गरमा गया है। समर्थक और विरोधी दोनों ही संगठनों ने 11 नवम्बर को लखनऊ में रैली के आयोजन का ऐलान किया है। इस मुद्दे को लेकर विरोधी पक्ष ने भाजपा पर राजनीति करने का आरोप लगाया है। प्रोन्नति में आरक्षण का विरोध कर रही सर्वजन हिताय संरक्षण समिति के अध्यक्ष शैलेंद्र दूबे ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया है।

दूबे ने कहा कि दरअसल उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनाव के पहले वोट बैंक की राजनीति के तहत यह सब खेल खेला जा रहा है। इसको लेकर प्रदेश के 18 लाख कर्मचारियों और 6 लाख शिक्षकों में भारी गुस्सा है।

उन्होंने कहा कि सर्वोच्च न्यायालय का निर्णय बदलने के लिए पहले भी चार बार संविधान संशोधन किए जा चुके हैं। अब पांचवीं बार संविधान संशोधन की कवायद भाजपा को काफी महंगी पड़ेगी। पदोन्नति में आरक्षण की घटिया राजनीति को प्रदेश में पूरी तरह दफन करने के लिए हमारी समिति व्यापक संघर्ष की रणनीति बना रही है। इस मुद्दे पर 11 नवम्बर को लखनऊ में एक बड़ी रैली का आयोजन होगा।

उधर, आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के संयोजक अवधेश कुमार वर्मा ने कहा कि 11 नवम्बर को वह भी लखनऊ में एक बड़ी रैली कर अपनी ताकत दिखाएंगे। 16 नवंबर से शुरू होने वाले संसद के शीतकालीन सत्र में प्रोन्नति में आरक्षण सम्बंधी विधेयक पास करवाने को लेकर मोदी सरकार पर दबाव बनाने के लिए प्रदेश के सभी जिलों में धरना, प्रदर्शन व सम्मेलन किए जाएंगे।

You May Like

Write a comment

Promoted Content