1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. 'अच्छे नेता मौजूद फिर भी बिगड़ रहे देश के हालात, लड़ाई के लिए रहें तैयार'

'अच्छे नेता मौजूद फिर भी बिगड़ रहे देश के हालात, लड़ाई के लिए रहें तैयार'

"मेरा अपना पेशा है, अपना काम है। मेरी कुछ जिम्मेदारियां हैं और आपके पास भी अपने काम हैं। जाइये और अपने काम कीजिए। हम तब मिलेंगे जब जंग का समय होगा।"

IANS [Published on:19 May 2017, 2:23 PM IST]
'अच्छे नेता मौजूद फिर भी बिगड़ रहे देश के हालात, लड़ाई के लिए रहें तैयार' - India TV

चेन्नई: सुपरस्टार रजनीकांत ने शुक्रवार को कहा कि राजनीति में अच्छे नेता मौजूद हैं, पर व्यवस्था में भ्रष्टाचार है। रजनीकांत ने चेन्नई में अपने प्रशंसकों की भीड़ को संबोधित करते हुए यह भी कहा कि यह उनके राजनीति में आने का उपयुक्त समय नहीं है। उन्होंने प्रशंसकों की तालियों की गड़गड़ाहट के बीच कहा, "मेरा अपना पेशा है, अपना काम है। मेरी कुछ जिम्मेदारियां हैं और आपके पास भी अपने काम हैं। जाइये और अपने काम कीजिए। हम तब मिलेंगे जब जंग का समय होगा।" (ये भी पढ़ें: अब मोबाइल से भी सस्ते में आप खरीद सकते हैं अपना घर, जानें कैसे)

इससे पहले बुधवार को प्रशंसकों के साथ एक फोटो सत्र के बाद उन्होंने संवाददाताओं के सवालों के जवाब में कहा था, "अगर ईश्वर की मर्जी होगी तो मैं राजनीति में आऊंगा।" अभिनेता ने साथ ही स्पष्ट किया कि वह राजनीतिक व्यवस्था के खिलाफ हैं, किसी नेता के नहीं।

उन्होंने कहा, "हमारे पास (एमके) स्टालिन, अंबुमणि (रामदास) और सीमन जैसे अच्छे नेता हैं। लेकिन जब राजनीतिक व्यवस्था ही खराब हो और लोकतंत्र में गिरावट आ गई हो तब हम क्या करें। इस व्यवस्था में बदलाव लाने की जरूरत है और लोगों की मानसिकता में बदलाव लाने की जरूरत है। तभी यह देश फलेगा-फूलेगा।"

तमिल न होने और एक बाहरी होने से जुड़ी आलोचनाओं को लेकर रजनीकांत ने कहा, "मैं 23 साल कर्नाटक में और 43 साल तमिलनाडु में रहा। हालांकि मैं कर्नाटक से एक मराठी के तौर पर आया था, लेकिन आप लोगों के प्यार व साथ ने मुझे पूरी तरह तमिल बना दिया है।"

ये भी पढ़ें: ये क्या कर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, क्या उन्हें अब गंवानी पड़ेगी कुर्सी!
क्या होता है महिलाओं में ख़तना-प्रथा? रोकने के लिये सुप्रीम कोर्ट में पहुंचा मामला....

You May Like

Write a comment

Promoted Content