1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. ‘बीजेपी से पूछता हूँ उनके कार्यकर्ताओं ने कितना ख़ून दिया है देश के लिए’

‘बीजेपी से पूछता हूँ उनके कार्यकर्ताओं ने कितना ख़ून दिया है देश के लिए’

नई दिल्ली: दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में बुधवार को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और नोटबंदी पर लघु फिल्मों की स्क्रीनिंग के साथ कांग्रेस का जन वेदना सम्मेलन शुरू हो गया है। सम्मेलन नोटबंदी के विरोध

India TV News Desk [Updated:11 Jan 2017, 12:53 PM IST]
‘बीजेपी से पूछता हूँ उनके कार्यकर्ताओं ने कितना ख़ून दिया है देश के लिए’

नई दिल्ली: दिल्ली के तालकटोरा स्टेडियम में बुधवार को पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी और नोटबंदी पर लघु फिल्मों की स्क्रीनिंग के साथ कांग्रेस का जन वेदना सम्मेलन शुरू हो गया है। सम्मेलन नोटबंदी के विरोध को लेकर पार्टी की भविष्य की रणनीति पर केंद्रित है। सम्मेलन में नवंबर में इंदिरा गांधी की 100वीं जयंती के उत्सव को लेकर एक प्रस्ताव भी पारित किया जाएगा।

सम्मेलन में केंद्र सरकार के नोटबंदी के कदम और उसकी जन-विरोधी नीतियों के कारण लोगों को हो रही परेशानियों का मुद्दा उठाया जाएगा। राहुल सम्मेलन में पुस्तिका 'हाल बेहाल, जन वेदना के 2.5 साल' भी जारी करेंगे। सम्मेलन को पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और कांग्रेस के अन्य नेताओं द्वारा संबोधित किए जाने की उम्मीद है। यह सम्मेलन उत्तर प्रदेश सहित पांच राज्यों में पार्टी के चुनाव प्रचार की धार तय करेगा।

क्या कहा राहुल गांधी ने.......

 

  • बीजेपी और उनके प्रधानमंत्री पूछते हैं कांग्रेस ने क्या किया सत्तर साल में? कांग्रेस ने अपना ख़ून दिया है ... मैं बीजेपी से पूछता हूँ उनके कार्यकर्ताओं ने कितना ख़ून दिया है देश के लिए...हमलोगों को बताने की ज़रूरत नहीं हमने क्या किया
  • मोदी ने पिछले ढाई साल में वो किया जो हमने सत्तर साल में नहीं किया... चाहे वो आरबीआई हो.. चुनाव आयोग हो... न्यायपालिका हो... मोदी और आरएसएस ने इन संस्थाओं को कमज़ोर किया
  • नोटबंदी का फ़ैसला मोदी का व्यक्तिगत फ़ैसला 
  • मोदी को ग़रीब, किसान, मज़दूरों के बीच जाने की ज़रूरत है.. प्रधानमंत्री को ख़ुद से पूछने की ज़रूरत है क्यों गाड़ियों की बिक्री कम हो गई और मनरेगा के तहत काम की माँग बढ़ गई
  • मोदी एक मुद्दे से दूसरे मुद्दे पर कूदते रहते हैं
  • अच्छे दिन तभी आएँगे जब 2019 में कांग्रेस सत्ता में आएगी
  • मोदी ने कहा था हिंदुस्तान को साफ़ कर दूँगा... सबकुछ साफ़ कर दूंगा.. सबको झाड़ू पकड़ा दिया... लेकिन फ़ैशन था कुछ दिन झाड़ू चला फिर ख़त्म
  • झाड़ू के बाद मेक इन इंडिया, कनेक्ट इंडिया, स्किल इंडिया, स्टैंड अप इंडिया और फिर कुछ दिन योगासन पर बैठ गए
  • योगा किया लेकिन पद्मासन ठीक नहीं किया... जो योगा कर सकता है वो पद्मासन कर सकता है लेकिन जो पद्मासन नहीं कर सकता वो योगा नहीं कर सकता
  • नोटबंदी की सोच का पालन ही नहीं किया मोदी ने
  • एक बड़ा नोट बंद किया और दो हज़ार का नोट ला दिया
  • नोटबंदी से हिंदुस्तान की आर्थिक रीढ़ की हड्डी टूट गई
  • मनमोहन सिंह की सरकार में मीडिया खुलकर बोलती थी लेकिन अब मोदी की सरकार में दिल से नहीं बोलती

 

You May Like

Write a comment

Promoted Content