1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. पूरे देश में अफरा-तफरी, आर्थिक इमरजेंसी जैसे हालात: मायावती

पूरे देश में अफरा-तफरी, आर्थिक इमरजेंसी जैसे हालात: मायावती

Khabarindiatv.com [ Updated 26 Nov 2016, 17:06:48 ]
पूरे देश में अफरा-तफरी, आर्थिक इमरजेंसी जैसे हालात: मायावती - India TV

नई दिल्ली: बीएसपी प्रमुख मायावती ने नोटबंदी पर मोदी सरकार को जमकर घेरा। उन्होंने कहा कि बिना तैयारी के लिए गए इस फैसले से पूरे देश में अफरा-तफरी मची हुई है और देश में आर्थिक इमरजेंसी जैसे हालात हैं। 

(देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें)

हताशा में लिया नोटबंदी का फैसला
एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में यूपी की पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि नोटबंदी के फैसले को लेकर देश में यह चर्चा आम है कि 2014 के लोकसभा चुनाव में जनता से किए गए वादों पर पीएम मोदी खरे नहीं उतर पाए और उन्होंने हताशा में आकर ऐसा कदम उठा लिया।

​पढ़ें:- बेहिसाब धन जमा करने पर 50 फीसदी टैक्स, 4 साल तक निकासी पर रोक

बीजेपी नेताओं की नींद उड़ी
मायावती ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी संसद में जवाब देने से कतरा रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि बीजेपी के नेता हताशा और निराशा में बीएसपी के बारे में गलतबयानी कर रहे हैं। बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी के नेताओं की नींद उड़ी हुई है। 

पढ़ें:- नकदी की दिक्कत ज्यादा से ज्यादा तीन महीने तक रह सकती है: पनगढ़िया
 

बीजेपी को बीएसपी से चुनाव में खतरा
यूपी विधानसभा चुनाव में बीजेपी को सबसे बड़ा खतरा बीएसपी से है। उन्होंने कहा बीजेपी को ऑक्सीजन पर चल रही कांग्रेस से कोई खतरा नहीं है वहीं समाजवादी पार्टी यूपी में अपराध नियंत्रण और विकास के कामों में नाकाम रही है। मुस्लिम बड़ी संख्या में बीएसपी से जुड़ रहे हैं। ऐसी हालत में बीजेपी को बीएसपी एक बड़ी चुनौती के रूप में दिख रही है। 

अखिलेश को कहा-बबुआ ब्रॉडकास्टिंग कॉरपोरेशन
मायावती ने सीएम अखिलेश पर तंज कसते हुए कहा कि बबुआ केवल शिलान्यास और उद्घाटन में लगे हुए हैं। उन्होंने आगरा-लखनऊ के बीच अधकच्चे एक्सप्रेसवे का उद्घाटन कर दिया। मायावती ने आरोप लगाया कि जनता के करोड़ों रुपये बबुआ ने प्रचार-प्रसार पर खर्च कर दिए। मायावती ने कहा कि बबुआ ब्रॉस्डकास्टिंग कॉरपोरेशन यानी बीबीसी-2 के रहते यूपी में विकास नहीं हो सकता।

सपा से बीजेपी को खतरा नहीं
बीएसपी सुप्रीमो ने कहा कि 2 जून 1995 की घटना के बाद से बीएसपी का सपा से कोई नाता नहीं रहा है। जबरदस्ती की रिश्ता बनाने वाले सपा से बीजेपी को कोई खतरा नहीं है। बीएसपी से बीजेपी को खतरा है इसलिए सोची-समझी रणनीति के तहत बीएसपी के बारे में गलत प्रचार करते रहते हैं।

Read Complete Article
loading...