1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. बेनामी संपत्ति मामला: IT डिपार्टमेंट ने मीसा भारती और तेजस्वी यादव की संपत्तियां अटैच कीं

बेनामी संपत्ति मामला: IT डिपार्टमेंट ने मीसा भारती और तेजस्वी यादव की संपत्तियां अटैच कीं

बेनामी संपत्ति मामले में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के परिवार पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है।

Agencies [Published on:19 Jun 2017, 10:25 PM IST]
बेनामी संपत्ति मामला: IT डिपार्टमेंट ने मीसा भारती और तेजस्वी यादव की संपत्तियां अटैच कीं

नई दिल्ली: बेनामी संपत्ति मामले में इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने राष्ट्रीय जनता दल प्रमुख लालू प्रसाद यादव के परिवार पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, आयकर विभाग ने राज्यसभा सांसद मीसा भारती और बिहार के मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव की कुछ संपत्तियों को बेनामी संपत्ति के अंतर्गत अटैच किया है। अटैच की गई संपत्तियों में मीसा के पति शैलेश कुमार की प्रॉप्रर्टी भी शामिल है।

लालू यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती को आयकर विभाग ने तलब किया है। उन्हें जुलाई के पहले हफ्ते में आयकर विभाग के दफ्तर में पेश होकर बेनामी लेनदेन पर स्पष्टीकरण देने को कहा गया है। बेनामी संपत्ति मामले में फंसी मीसा समन जारी किए जाने के बावजूद 2 बार इनकम टैक्स डिपार्टमेंट के सामने हाजिर नहीं हुईं थीं। मीसा और उनके पति शैलेश के खिलाफ 2 बार समन जारी किया गया था। इस कार्रवाई के बाद मीसा, तेजस्वी और शैलेश को यह साबित करना होगा कि जो संपत्तियां अटैच की गई हैं उन्हें वैध तरीके से खरीदा गया है। बता दें कि अटैच्ड की गई संपत्ति को न बेचा जा सकता है ना ही किराए पर दिया जा सकता है। 

इनकम टैक्स डिपार्टमेंट की इस कार्रवाई के बाद लालू परिवार की मुश्किलों में इजाफा ही हुआ है। इससे पहले लालू के बेटे और मंत्री तेज प्रताप यादव के पेट्रोल पंप का लाइसेंस भारत पेट्रोलियम कॉर्पोरेशन लिमिटेड (BPCL) ने रद्द कर दिया था। हालांकि बाद में एक स्थानीय कोर्ट ने इस फैसले पर स्टे दे दिया था। तेज प्रताप को गलत तरीके से लाइसेंस लेने के आरोपों के बाद नोटिस जारी किया गया था। 23 मई को आयकर विभाग ने बेनामी संपत्ति के मामले में लालू यादव और उनके करीबियों से जुड़े 22 ठिकानों पर छापेमारी की थी, हालांकि लालू ने छापेमारी की बात से इनकार किया था।