1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. DUSU चुनाव पर‌िणामः ABVP को बड़ा झटका, चार साल बाद सत्ता में लौटी NSUI

DUSU चुनाव पर‌िणामः ABVP को बड़ा झटका, चार साल बाद सत्ता में लौटी NSUI

बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच किंग्सवे कैंप के पास एक सामुदायिक सभागार में DUSU के मतों की गिनती हुई। NSUI के रॉकी तूशीद ने अध्यक्ष पद जीतकर ABVP के चार साल के दबदबे को खत्म कर दिया।

Edited by: India TV News Desk [Updated:13 Sep 2017, 2:33 PM IST]
DUSU चुनाव पर‌िणामः ABVP को बड़ा झटका, चार साल बाद सत्ता में लौटी NSUI

नई दिल्ली: दिल्‍ली यूनिवर्सिटी स्‍टूडेंट्स यूनियन (DUSU) चुनाव में बडे उलटफेर के साथ एनएसयूआई ने अध्यक्ष पद पर कब्जा जमा लिया है। चार साल के लंबे इंतजार के बाद एनएसयूआई ने वापसी की और रॉकी तूसीद अब डूसू के अध्यक्ष बन गए हैं। वहीं सच‌िव पद पर एबीवीपी का कब्जा हुआ है। यह जीत एनएसयूआई और कांग्रेस दोनों के लिए ‌ही प्रेरणादायी है। हालांकि यह चार साल से डूसू में काबिज एबीवीपी के लिए बहुत बड़ा झटका है। ये भी पढ़ें: सिरसा: हनीप्रीत के कमरे में नोटों का ज़खीरा, मिला 250 करोड़ कैश?

बुधवार को कड़ी सुरक्षा के बीच किंग्सवे कैंप के पास एक सामुदायिक सभागार में DUSU के मतों की गिनती हुई। NSUI के रॉकी तूशीद ने अध्यक्ष पद जीतकर ABVP के चार साल के दबदबे को खत्म कर दिया।

DUSU अध्यक्ष पद के लिए मुख्य उम्मीदवारों में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (ABVP) के रजत चौधरी, NSUI के रॉकी तूशीद, AISA की पारल चौहान, निर्दलीय उम्मीदवार राजा चौधरी और अल्का शामिल थे। मंगलवार को हुए DUSU चुनाव में कुल 43 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। पिछले साल ABVP ने तीन पदों पर जीत दर्ज की थी, जबकि एनएसयूआई ने वापसी करते हुए संयुक्त सचिव का पद अपने नाम किया था।

अध्यक्ष पद के लिए कुल 24 उम्मीदवार मैदान में थे। उपाध्यक्ष पद के लिए 10, सचिव के लिए पांच और जॉइंट सेक्रटरी के लिए 5 उम्मीदवर चुनाव लड़ रहे थे। इस बार चुनाव के लिए 40 मॉर्निंग कॉलेजों में ईवीएम लगे थे। इस बार छात्रसंघ के चुनाव में कुल 1.32 लाख छात्रों ने वोट डाला।

Related Tags:

You May Like