1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. US AWASTHI ने शुरू की IFFCO ग्रामीण इन्नोवेशन स्कॉलरशिप

US AWASTHI ने शुरू की IFFCO ग्रामीण इन्नोवेशन स्कॉलरशिप

IFFCO के यू.एस. अवस्थी एक मिशन पर हैं। पिछले 24 वर्षों में उन्होंने IFFCO को एक बड़ी कंपनी बनाने में मदद की है। इसके लिए उन्होंने 35 हजार से अधिक सहकारी समितियों को इफको के साथ जोड़ा है।

Khabarindiatv.com [Updated:25 Apr 2017, 6:48 PM]
US AWASTHI ने शुरू की IFFCO ग्रामीण इन्नोवेशन स्कॉलरशिप - India TV

IFFCO के यू.एस. अवस्थी एक मिशन पर हैं। पिछले 24 वर्षों में उन्होंने इफको को एक बड़ी कंपनी बनाने में मदद की है। इसके लिए उन्होंने 35 हजार से अधिक सहकारी समितियों को इफको के साथ जोड़ा है। अब उन्होंने 2018 तक 4 करोड़ किसानों के जीवन में डिजिटल को जोड़ने के एक और सपने को शुरू किया है। इफको के ग्राहक बड़े पैमाने पर ग्रामीण भारत में हैं। इफको से एक बार जुड़े लोग हमेशा के लिए इसका हिस्सा बन जाते हैं। इस प्रकार इफको प्रभावी रूप से किसान की ही कंपनी है। डिजिटल पर सरकार बहुत ज्यादा जोर दे रही है और इसके लिए विभिन्न योजनाओं को भी शुरू किया गया है। 

इसके लिए काम करने वालों की बढ़ती जरूरत के लिए यू.एस. अवस्थी जैसे लोगों की भी जरूरत है। पिछले कुछ महीनों में इफको ने एक आश्चर्यजनक गति से डिजिटल पहल की शुरुआत की है। इफको ने कृषि उत्पाद खरीदने के लिए किसानों को सक्षम करने वाले ई-कॉमर्स पोर्टल की शुरुआत की है। ये एक वर्गीकृत पोर्टल है जहां किसान अपने कृषि उत्पाद खरीद सकते हैं, उससे जुड़े ज्ञान के लिए ये एक अच्छा मंच है। साथ ही इसमें इफको युवा के नाम से एक नौकरी पोर्टल भी है। 

आज यू.एस. अवस्थी ने ग्रामीण युवाओं के बीच मौजूद अभिनव विचारों को पहचानने के उद्देश्य से IFFCO ग्रामीण इन्नोवेशन स्कॉलरशिप का शुभारंभ किया। इस अवसर पर यू.एस. अवस्थी ने कहा कि "हमारे देश में विचारों की कमी नहीं है, मुझे लगता है कि उन्हें पहचानकर और उन्हें पंख देने होंगे। यह छात्रवृत्ति ग्रामीण युवाओं को उनके विचारों को पहचानने और उनको पूरा करने में मदद करने के लिए एक छोटा कदम है।”

इस छात्रवृत्ति के लिए कोई भी व्यक्ति आवेदन कर सकता है जिसके पास कृषि को बढ़ाने के लिए नए तरीक़े, महिलाओं और बच्चों के लिए स्वास्थ्य देखभाल के विचार, या शिक्षा, बुजुर्ग देखभाल और स्वच्छता से जुड़े विचार हैं। सभी विचार टेकनोलॉजी से जुड़े होने चाहिए और इसमें कम से कम दस लाख उपयोगकर्ता तक पहुंचने की क्षमता होनी चाहिए। छात्रवृत्ति के लिए आवेदन  http://iffcobazar.in/frontend/home/scholarship  पर किया जा सकता है।

Related Tags:
Write a comment