1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम, सुरक्षा बलों दो आतंकियों को मार गिराया

जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम, सुरक्षा बलों दो आतंकियों को मार गिराया

सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम कर माछिल सेक्टर में दो आतंकियों को मार गिराया।

Edited by: India TV News Desk [Updated:16 Sep 2017, 10:45 AM IST]
जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम, सुरक्षा बलों दो आतंकियों को मार गिराया

जम्मू: सुरक्षा बलों ने जम्मू-कश्मीर में घुसपैठ की बड़ी कोशिश नाकाम कर कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में दो आतंकियों को मार गिराया। धुसपैठ के बाद सेना का सर्च ऑपरेशन जारी है। पाकिस्तानी सेना ने जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर भारतीय चौकियों और बस्तियों को निशाना बना कर रातभर गोलीबारी की। बीएसएफ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने आज बताया कि पिछले चार दिनों से अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पाकिस्तान लगातार संघर्षविराम उल्लंघन कर रहा है जिसमें बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया और कुछ अन्य घायल हो गए। 

अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सैनिकों ने करीब मध्यरात्रि को अरनिया सेक्टर में भारतीय चौकियों पर गोलीबारी शुरू कर दी जिसके जवाब में सीमा सुरक्षा बल बीएसएफ के जवानों ने भी गोलीबारी की। अधिकारी ने कहा, गोलीबारी आज सुबह छह बजकर 45 मिनट पर रुकी। 

अधिकारी ने बताया कि साई, त्रेवा और जबाउल गांवों में पाकिस्तान की गोलीबारी में एक मंदिर, दो मकान और तीन गोशालाओं को नुकसान पहुंचा है। रातभर हुई गोलीबारी में तीन मवेशी भी मारे गए। 

पाकिस्तानी सेना ने अरनिया सेक्टर में अंतरराष्ट्रीय सीमा पर कल भी गोलीबारी की थी जिसमें बीएसएफ जवान बिजेंदर बहादुर शहीद हो गए थे और एक गांववासी भी घायल हो गया था। 

बृहस्पतिवार को बीएसएफ की जवाबी कार्वाई में दो पाकिस्तानी सैनिक भी मारे गए थे जबकि जम्मू और पुंछ जिले में बुधवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सेना की बिना उकसावे की गोलीबारी में तीन भारतीय जवान घायल हो गए थे। 

भारतीय सेना के आंकड़ों के अनुसार, इस साल पाकिस्तानी सेना की ओर से संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाओं में वृद्धि हुई है। एक अगस्त तक पाकिसतान सेना ने 285 बार संघर्षविराम उल्लंघन किया है जबकि 2016 में पूरे साल ऐसी 228 घटनाएं दर्ज की गई थीं । 

You May Like