1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. चकमा खा गई पुलिस, नेपाल नहीं कनाडा पहुंची बाबा की बेटी हनीप्रीत?

चकमा खा गई पुलिस, नेपाल नहीं कनाडा पहुंची बाबा की बेटी हनीप्रीत?

कनाडा में राम रहीम के समर्थक हैं। कई शहरों में डेरा भी इसने बना रखा है। हनीप्रीत और बाबा के पास कनाडा में बड़े-बड़े घर हैं। पूरा साम्राज्य है। पुलिस और मीडिया को हनीप्रीत की तलाश कर रही है लेकिन अबतक उसका कुछ...

Written by: India TV News Desk [Published on:20 Sep 2017, 1:31 PM IST]
चकमा खा गई पुलिस, नेपाल नहीं कनाडा पहुंची बाबा की बेटी हनीप्रीत?

नई दिल्ली: इन दिनों सोशल मीडिया पर बलात्कारी बाबा राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत के ठिकाने के बारे में ऐसा दावा किया जा रहा है जिसे सुनकर आपके होश उड़ जाएंगे। सोशल मीडिया में बताया जा रहा है कि हनीप्रीत पुलिस को चकमा देकर कनाडा पहुंच चुकी है जबकि खबर तो ये है कि पुलिस उसे नेपाल में ढूंढ रही है। सोशल मीडिया के मुताबिक नेपाल में हनीप्रीत फर्जी पासपोर्ट बनाकर रफुचक्कर हो गई है। हनीप्रीत नेपाल से सीधे कनाडा नहीं गई, पुलिस और खुफिया एंजेंसियों को चकमा देने के लिए वो कई देशों के रास्ते कनाडा पहुंची है। ये भी पढ़ें: कोलकाता की रैली में मौलाना की धमकी, 'हम 72 भी होते हैं तो लाखों का जनाजा निकाल देते हैं'

हनीप्रीत फर्जी दस्तावेजों के जरिए नेपाल की नागरिक बनी। नेपाली अधिकारियों को पैसे देकर पासपोर्ट और वीजा लेने में कामयाब रही है और एक फर्जी नाम से नेपाल छोड़ कर भाग गई। हनीप्रीत भेष बदलने में माहिर है इसलिए वो भारत और नेपाल की पुलिस को झांसा देने में सफल रही। सोशल मीडिया पर यह भी दावा किया जा रहा है कि पहले वो थाइलैंड-इंडोनेशिया जैसे देशों में गई जहां वीजा ऑन अराइवल मिलता है। मतलब जहां जाने के लिए वीजा की जरूरत नहीं पड़ती है। फिर वहां से वो कनाडा निकल गई।

हनीप्रीत के पास पैसे की कमी नहीं है, न ही मदद करने वालों की। दुनिया के कई देशों में राम रहीम के फोलोवर्स हैं जो खुल कर हनीप्रीत की मदद कर रहे हैं। उन्हीं की मदद से हनीप्रीत कई देशों के रास्ते आखिरकार कनाडा पहुंचने में कामयाब हुई है। दावा ये भी है कि कनाडा में वो डेरे के समर्थकों की मदद से अपनी पहचान छिपा कर रह रही है जबकि खुफिया एजेंसियां और पुलिस उसे नेपाल में ढूंढ रही है।

सोशल मीडिया पर ये भी दावा किया जा रहा है कि हनीप्रीत पहले हरियाणा से भाग कर राजस्थान पहुंची जहां उसने अपने भेष बदले और सड़क के रास्ते नेपाल पहुंच गई। उसने रास्ते में कई कार बदले। हर जगह डेरे के समर्थकों ने हनीप्रीत की मदद की। नेपाल पहुंच कर उसने फिर अपना हुलिया बदल कर नेपाली बन गई और फर्जी दस्तावेज तैयार किए और नेपाल से कनाडा भाग गई। ऐसी भी खबरें आई थी कि राम रहीम को ये पहले ही अंदेशा हो चुका था कि उसे सजा मिलने वाली है और वो खुद कनाडा भागने की फिराक में था।

कनाडा में राम रहीम के समर्थक हैं। कई शहरों में डेरा भी इसने बना रखा है। हनीप्रीत और बाबा के पास कनाडा में बड़े-बड़े घर हैं। पूरा साम्राज्य है। पुलिस और मीडिया को हनीप्रीत की तलाश कर रही है लेकिन अबतक उसका कुछ पता नहीं चल पाया है। वो 25 अगस्त से लापता है और लगातार अपना ठिकाना बदल रही है। पुलिस को जब तक हनीप्रीत का सुराग मिलता है वो वहां से रफुचक्कर हो जाती है। हनीप्रीत अकेले ये काम नहीं कर सकती जरूर उसकी कोई मदद कर रहा है। हनीप्रीत का गायब होना एक रहस्य बनता जा रहा है।

You May Like