1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. BLOG: सेना ने कैसे सर्जिकल स्ट्राइक पर कुछ नेताओं की आलोचनाओं का किया पर्दाफ़ाश

BLOG: सेना ने कैसे सर्जिकल स्ट्राइक पर कुछ नेताओं की आलोचनाओं का किया पर्दाफ़ाश

भारतीय सेना ने 28 सितंबर 2016 में पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों के कई ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया था.

Written by: Rajat Sharma [Published on:29 Sep 2017, 3:31 PM IST]
BLOG: सेना ने कैसे सर्जिकल स्ट्राइक पर कुछ नेताओं की आलोचनाओं का किया पर्दाफ़ाश

भारतीय सेना ने 28 सितंबर 2016 में पाकिस्तान के कब्ज़े वाले कश्मीर में सर्जिकल स्ट्राइक कर आतंकियों के कई ठिकानों को नेस्तनाबूत कर दिया था. आपको याद होगा कि जब सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी, पाकिस्तान के आतंकवादियों को उसके घर में घुस कर मारा था तो पहले राहुल गांधी ने फिर केजरीवाल ने और पाकिस्तान ने एक ही बात कही थी कि सर्जिकल स्ट्राइक हुई नहीं, उन्होंने इसके सबूत मांगे थे.

लेकिन ठीक एक साल बाद लेफ़िटिनेंट जनरल (सेवानिवृत) और पूर्व जीओसी-सी, नॉर्दन कमांड डी.एस. हूडा ने गुरुवार को इंडिया टीवी पर पहली बार एक एक सवाल का जवाब दिया. जनरल हुडा ने बताया कि सरकार ने पहले ही तय कर लिया था कि वो सर्जिकल स्ट्राइक की जानकारी शेयर करेगी चाहे इस ख़तरनाक मिशन का नतीजा कुछ भी निकले. उन्होंने ये भी बताया कि जब PoK में सेना के जवान सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दे रहे थे तब उसके लाइव वीडियो वो उधमपुर में अपने ऑफिस में बैठकर देख रहे थे. सर्जिकल स्ट्राइक की लाइव तस्वीरें दिल्ली में भी देखी जा रही थी। जवान अपने साथ रॉकेट लॉन्चर, असॉल्ट राइफल, ग्रेनेड लेकर गए थे जिसकी मदद से उऩ्होंने PoK में अपने 4 टारगेट को पूरी तरह बर्बाद कर दिया। जिसमें 70 से भी ज्यादा आतंकी मारे गए. 

मुझे उम्मीद है जनरल हुडा ने जितनी बातें बताई उन्हें सुनकर उन लोगों को जवाब मिल गया होगा जो सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल उठाते हैं, जो सर्जिकल स्ट्राइक के सबूत मांगते हैं, उन्हें एक एक सवाल का जवाब इंडिया टीवी पर मिला होगा. मैं ये भी उम्मीद करता हूं कि हमारे बहादुर सैनिक अगर भविष्य में भी सर्जिकल स्ट्राइक जैसी कार्रवाई करते हैं, तो ये लोग उस पर शक़ नहीं करेंगे. (रजत शर्मा)

You May Like