1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. पीएम मोदी ने कहा- सरदार पटेल कुछ और साल जीवित रहते तो 1970 से पहले बांध बन चुका होता

पीएम मोदी ने कहा- सरदार पटेल कुछ और साल जीवित रहते तो 1970 से पहले बांध बन चुका होता

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 67वें जन्मदिन के अवसर पर आज सरदार सरोवर बांध देश को समर्पित किया। पीएम मोदी ने दभोई में रैली को संबोधित किया।

Edited by: Khabarindiatv.com [Updated:17 Sep 2017, 4:32 PM IST]
पीएम मोदी ने कहा- सरदार पटेल कुछ और साल जीवित रहते तो 1970 से पहले बांध बन चुका होता

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 67वें जन्मदिन के अवसर पर आज सरदार सरोवर बांध देश को समर्पित किया। पीएम मोदी ने दभोई में रैली को संबोधित किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपनी मां से भी मुलाकात की। जन्मदिन के अवसर पर वह इस परंपरा को पहले भी निभाते रहे हैं। LIVE UPDATES

  • दभोई के साथ बहुत सारी यादें जुड़ी है- पीएम मोदी।
  • नर्मदा महोत्सव के समापन समारोह में पीएम मोदी।
  • पीएम मोदी ने देशवासियों को दी विश्नकर्मा दिवस की बधाई।
  • आपके सपनों को पूरा करके दम लूंगा-पीएम मोदी
  • श्रम और पसीना बहाने वालों को विश्वकर्मा का दर्जा।
  • मेरे जन्म से पहले सरदार ने बांध का सपना देखा था।
  • पटेल कुछ और साल जीवित रहते तो 1970 से पहले बांध बन चुका होता।
  • सरदार पटेल ने सबसे पहले इस बांध का सपना देखा था।
  • सरदार पटेल की आत्मा जहां भी होगी हमें आशीर्वाद देगी।
  • 125 करोड़ लोगों की ताकत से बनेगा न्यू इंडिया।
  • सरदार सरोवर बांध के निर्माण में कई अड़चने आई।
  • सरदार सरोवर बांध देश की प्रगति का एक इतिहास बनेगा।
  • वर्ल्ड बैंक ने बांध के लिए मदद करने से मना कर दिया था।
  • भारत में जल क्रांति का श्रेय अंबेड़कर को- पीएम मोदी
  • बांध के लिए मां नर्मदा को बहुत चुनौती झेलनी पड़ी।
  • हमने ठान लिया था कि देश के पसीने से बांध बनाकर दम लेंगे- पीेएम मोदी
  • गुजरात में पानी के अभाव का दर्द मैंने महसूस किया है।
  • पाइप लाइन लगाकर बॉर्डर पर जवानों के लिए नर्मदा का पानी पहुंचाया।
  • सरदार सरोवर बांध के लिए गुजरात का संत समाज आगे आया।
  • गुजरात के मंदिरों, मठों से बांध के लिए मदद मिली।
  • हमने बाँध को कभी राजनीति का मुद्दा बनने नहीं दिया।
  • गुजरात के संतों ने बांध के लिए लड़ाई लड़ी, अनशन किया।
  • सरदार सरोवर बांध इंजीनियरिंग का करिश्मा है- पीएम मोदी
  • इस बांध को रोकने के लिए कईं षड़यंत्र रचे गए- पीएम मोदी
  • मेरे लिए यह भावुकता का पल है- पीएम मोदी
  • पीएम मोदी ने कहा हम जन्मदिन मनाने वाले लोगों में से नहीं है।
  • लेकिन जन्मदिन के दिन विश्वकर्मा दिवस हो, वो खास होता है।
  • मुझे जन्मदिन की बधाई देने वालों को तह दिल से शुक्रिया- पीएम मोदी
  • यह बांध पानी के लिए तरसते लोगों का प्रोजेक्ट है।
  • मध्यप्रदेश की जनता और मुख्यमंत्री का आदरपूर्वक धन्यवाद- पीएम मोदी
  • पश्चिम को पानी और पूरब को बिजली मिले- पीएम मोदी
  • पीएम मोदी ने कहा एयर मार्शल अर्जन सिंह का निधन देश के लिए एक बड़ी क्षति है।
  • पर्यटन बढ़ाने के लिए कोशिशें करता रहता हूं।

तस्वीरों में देखिए, नरेंद्र मोदी का बचपन से लेकर प्रधानमंत्री बनने तक का सफर

182 मीटर लंबे 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' की पहल मोदी ने की थी और वह काफी समय से सरदार सरोवर बांध की ऊंचाई बढ़ाने के भी पक्ष में हैं। इस बांध की ऊंचाई हाल ही में बढ़ाकर 138.68 मीटर की गई है। एक अधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार, बांध की ऊंचाई बढ़ने से प्रयोग करने वाली जलक्षमता 4.73 एकड़ फीट(एमएएफ) हो जाएगी, जिससे गुजरात, राजस्थान, मध्यप्रदेश और महाराष्ट्र के लोगों को फायदा होगा।

विज्ञप्ति में बताया गया है कि इस परियोजना से गुजरात के जल रहित क्षेत्रों में नर्मदा के पानी को नहर और पाइपलाईन नेटवर्क के जरिये पहुंचाने में मदद मिलेगी। सिंचाई सुविधा में विस्तार होगा, जिससे 10 लाख किसान लाभान्वित होंगे और कई गावों में पीने का पानी पहुंचेगा और यह चार करोड़ लोगों को फायदा पहुंचाएगा।

पीएम मोदी की अलग-अलग विदेश यात्राओं का सेल्फी प्रेम

इस परियोजना को जल ट्रांसपोर्ट के सबसे बड़े मानव प्रयासों के रूप में देखा जा रहा है। इससे प्रतिवर्ष 100 करोड़ यूनिट जलबिजली पैदा होने की संभावना है।सरदार बांध का दौरा करने के बाद, प्रधानमंत्री साधु बेट जाएंगे, जहां 'स्टैच्यू ऑफ यूनिटी' और इससे संबंधित सरदार वल्लभ भाई पटेल स्मारक परिसर का निर्माण किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया, "प्रधानमंत्री को इस परियोजना के काम की प्रगति का संक्षिप्त विवरण भी दिया जाएगा। परियोजना के अंतर्गत 182 मीटर लंबा मूर्ति, एक प्रदर्शनी हॉल और एक आगंतुक केंद्र बनाया जाए रहा है।"प्रधानमंत्री नर्मदा महोत्सव के समापन समारोह में शामिल होंगे और दभोई में लोगों को संबोधित करेंगे। समारोह के दौरान वह राष्ट्रीय जनजाति स्वतंत्रता सेनानियों के लिए संग्रहालय की आधारशिला रखेंगे।

मोदी बाद में अमरेली जाएंगे, जहां वह एपीएमसी के नए मार्केट यार्ड का उद्घाटन करेंगे। वह मधु उत्पादन केंद्र की आधारशिला और अमर डेयरी के नए प्लांट का उद्घाटन भी करेंगे। वह अमरेली में सहाकार सम्मेलन को भी संबोधित करेंगे।

Related Tags:

You May Like