1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. Padmavati Controversy: दीपिका भड़की, कहा- देश पीछे जा रहा है, VHP का जवाब- फिल्‍म 'पद्मावती' के सारे प्रिंट जला देने चाहिए

Padmavati Controversy: दीपिका भड़की, कहा- देश पीछे जा रहा है, VHP का जवाब- फिल्‍म 'पद्मावती' के सारे प्रिंट जला देने चाहिए

संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनी और रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर के अभिनय से सजीं फिल्‍म पद्मावती पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है

Written by: Khabarindiatv.com [Updated:15 Nov 2017, 8:04 AM IST]
Padmavati Controversy: दीपिका भड़की, कहा- देश पीछे जा रहा है, VHP का जवाब- फिल्‍म 'पद्मावती' के सारे प्रिंट जला देने चाहिए

नई दिल्ली: संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बनी और रणवीर सिंह, दीपिका पादुकोण और शाहिद कपूर के अभिनय से सजीं फिल्‍म पद्मावती पर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है। आज मीडिया से बात करते हुए फिल्‍म एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण ने कहा है कि उनको पूरा भरोसा है कि फिल्‍म विवादों से उभरकर बॉक्‍स ऑफिस पर रिलीज होगी और एंटरटेनमेंट जगत के लिए एक बड़ी लड़ाई जीतने में कामयाब होगी। दीपिका ने साफ-साफ शब्‍दों में फिल्‍म का विरोध कर रहे लोगों को जवाब देते हुए कहा कि हमारी जवाबदेही सिर्फ सेंसरबोर्ड के प्रति है और मैं जानती हूं और मेरा मानना है कि फिल्‍म को रिलीज होने से कुछ भी नहीं रोक सकता।

वहीं दूसरी तरफ फिल्‍म पर विवाद बढ़ता ही जा रहा है और विश्व हिन्दू परिषद (VHP) के नेता आचार्य धर्मेन्द्र ने फिल्म पद्मावती में इतिहास के साथ की गई कथित छेड़छाड़ पर कड़ा विरोध जताते हुए हुए कहा कि फिल्म पद्मावती के सारे प्रिंट जला दिए जाने चाहिए और निर्माता/निर्देशक संजय लीला भंसाली पर मुकदमा चलाना चाहिए। उन्‍होंने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि जिस तरह से फिल्‍म में  हमारी महारानी का चरित्र हनन किया जा रहा है उसकी निंदा की जानी चाहिए। उन्‍होने कहा  उन्होंने कहा, ‘‘यह देशद्रोही और हिन्दू विरोधी है।’’

गौरतलब है कि फिल्‍म निर्देशक संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बन रही इस फिल्‍म में दीपिका पादुकोण रानी पद्मावती के किरदार में है और अलाउद्दीन खिलजी के किरदार में रणवीर सिंह अभिनय कर रहे हैं। शाहिद कपूर महाराजा रावल रत्‍न सिंह के किरदार में नजर आएंगे। बताया जा रहा है कि इस फिल्‍म में दोनों के बीच प्रेम को भी दिखाया जा रहा है जिससे राजपूत समाज नाराज चल रहा है हालांकि फिल्‍म निर्देशक संजय लीला भंसाली ने इस तरह के किसी भी सीन के न होने की बात कहीं हैं।

फिल्‍म पद्मावती का हिस्‍सा होने पर गर्व का अहसास होता है: दीपिका

बॉलीवुड में अपने अभिनय से आज टॉप एक्‍ट्रेस में शामिल दीपिका पादुकोण ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि "एक महिला के रूप में मुझे इस फिल्म का हिस्सा होने और कहानी को बताने पर गर्व है, जिसे बताए जाने की जरूरत है और इसे आज बताए जाने की जरूरत है।" दीपिका को पूरा भरोसा है कि फिल्म अपनी तय तिथि 1 दिसंबर को ही रिलीज होगी। गौरतलब है कि फिल्‍म निर्देशक संजय लीला भंसाली के निर्देशन में बन रही इस फिल्‍म में दीपिका पादुकोण रानी पद्मावती के किरदार में है और अलाउद्दीन खिलजी के किरदार में रणवीर सिंह अभिनय कर रहे हैं। शाहिद कपूरमहाराजा रावल रत्‍न सिंह के किरदार में नजर आएंगे।

दीपिका ने पूछा बड़ा सवाल, ‘एक राष्ट्र के रूप में हम कहां पहुंच गए हैं?’

deepika padukone

फिल्‍म पद्मावती की रिलीज से पहले जिस तरह के विवाद सामने आ रहे हैं उस पर आज दीपिका पादुकोण ने खुलकर बात करते हुए कहा कि  "यह भयावह है, यह बिल्कुल भयावह है… इससे हमें क्या मिला ? और एक राष्ट्र के रूप में हम कहां पहुंच गए हैं? हम आगे बढ़ने के बदले पीछे हुए हैं।" दीपिका पादुकोण ने विवाद पर अपना पक्ष और मजबूत करते हुए कहा कि हमारी जवाबदेही सिर्फ सेंसरबोर्ड के प्रति है और मैं जानती हूं और मेरा मानना है कि फिल्‍म को रिलीज होने से कुछ भी नहीं रोक सकता।

‘ऐसा रोल मिलना सौभाग्‍य की बात, मैं इसका जश्‍न मनाती हूं’

लोग बेशक फिल्‍म पद्मावती और फिल्‍म के निर्देशक संजय लीला भंसाली का विरोध कर रहे हो लेकिन फिल्‍म में पद्मावती का रोल निभा रही एक्‍ट्रेस दीपिका पादुकोण ने अपने रोल के बारें में बात करते हुए कहा है कि इस फिल्‍म में उनको एक ऐसा मौका मिला है जो हर अभिनेत्री को करियर में नसीब नहीं हो पाता है। उन्‍होंने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि मैं इसका जश्‍न मनाती हूं। उन्होंने कहा कि फिल्म इंड्रस्‍टी से मिल रहा समर्थन इस बात का प्रतीक है कि यह सिर्फ 'पद्मावती' के बारे में नहीं है, बल्कि यह फिल्म जगत एक बड़ी लड़ाई लड़ रहा है।

आखिर क्‍यों नाराज है राजपूत समाज, रानी पद्मावती के साथ क्‍या है खास कनेक्‍शन ?

क्‍योंकि राजपूत समाज का मानना है कि रानी पद्मावती राजा रत्‍न सिंह की धर्म पत्‍नी थी। लोगों का ऐसा मानना रहा है कि चित्‍तौड़गढ़ की रानी पद्मावती की खूबसूरती पर अलाउद्दीन खिलजी मोहित था जिसके चलते उसने  चित्‍तौड़गढ़ पर हमला किया था। इस हमले के बाद रानी पद्मावती और किले में मौजूद अन्‍य महिलाओं ने जौहर कर (खुद को जलाकर) आत्‍महत्‍या कर ली थी।

राजपूत समाज इस बात को लगातार मानता आ रहा है कि मुगलों के आक्रमण के बाद रानी पद्मावती ने 16000 रानियों के साथ जौहर किया था ताकि देश और राजपूत समाज की इज्‍जत और मान मर्यादा के साथ कोई खिलवाड़ ना हो। लेकिन सजंय लीला भंसाली अपनी इस फिल्‍म में रानी पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच प्रेम संबंध की कहानी दिखाकर इतिहास के साथ छेड़छाड़ कर रहे हैं और उनका यह प्रयास गलत है ऐसे में अगर यह फिल्‍म रिलीज होती है तो राजपूत समाज के साथ ही हिंदू समाज भी सड़कों पर उतरेगा और पूरा विरोध किया जाएगा।

देखिए वीडियो-

'हमें पिछड़ेपन पर लेक्चर न दें दीपिका'

बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने दीपिका पादुकोण पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर कहा, 'अभिनेत्री दीपिका पादुकोण हमें पिछड़ेपन को लेकर लेक्चर दे रही हैं! यह देश तभी विकास कर सकता है, जब उनकी नजर में वह पीछे जा रहा हो।'

पद्मावती और खिलजी के बीच रोमांटिक ड्रीम सीक्वेंस का कोई सीन नहीं है फिल्‍म में: संजय लीला भंसाली

फिल्मकार संजय लीला भंसाली ने उन अफवाहों का खंडन किया है, जिनमें कहा गया है कि आगामी फिल्म 'पद्मावती' में रानी पद्मावती और आक्रमणकारी अल्लाउद्दीन खिलजी के बीच रोमांटिक ड्रीम सीक्वेंस है। भंसाली ने कहा, "दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह द्वारा निभाए गए पात्रों के बीच कोई बातचीत नहीं है।" उन्होंने एक वीडियो रिकॉर्डिग से इस बात की घोषणा की है कि रानी पद्मावती और खिलजी के बीच कोई संपर्क नहीं हुआ है।

सलमान खान ने भी किया फिल्‍म पद़मावती का समर्थन, कहा- ‘पहले फिल्‍म देखें फिर राय बनाए’

अभिनेता सलमान खान आज फिल्म ‘‘पद्मावती’’ के समर्थन में आगे आए हैं और उन्होंने कहा है कि देखने से पहले फिल्म के बारे में कोई राय बनाना ठीक नहीं है। सलमान ने कहा कि भंसाली एक महान फिल्म निर्माता हैं। वह अच्छी फिल्में बनाते हैं और उनकी फिल्मों में कुछ भी गलत नहीं होता है।

राजपूत संगठनों का दावा, ऐतिहासिक शाही किरदारो से फिल्‍म में हुआ है खिलवाड़

एक राजपूत संगठन ने दावा किया है कि इस फिल्म ने ऐतिहासिक तथ्यों को तोड़ मरोड़कर फिल्माया गया है और शाही किरदारों को गलत ढंग से प्रदर्शित किया है। राष्ट्रीय राजपूत कर्णी सेना के बेंगलुरू प्रमुख भंवर सिंह ने कहा कि इतिहास के साथ तोड़ मरोड़ करने की कोशिश की निंदा करते हुए संगठन यहां 15 नवंबर को एक स्वाभिमान पदयात्रा निकालेगा।

फिल्म में महान रानी के ‘‘आपत्तिजनक’’ चित्रण से उनकी छवि खराब हुई: अनिल विज

हरियाणा के मंत्री अनिल विज ने फिल्म ‘पद्मावती’ पर इतिहास के साथ छेड़छाड़ करने और ‘सती’ प्रथा से संबंधित कानूनों के उल्लंघन का आरोप लगाते हुए कहा कि सेंसर बोर्ड को जनता की भावनाओं का ध्यान रखते हुए इसकी रिलीज रोक देनी चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया कि फिल्म में महान रानी के ‘‘आपत्तिजनक’’ चित्रण से उनकी छवि खराब हुई है।

You May Like