1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. स्वामी रामदेव ने इंडिया टीवी कॉन्क्लेव में कहा, 'जो योग जानता है वो कभी आतंकवादी नहीं हो सकता'

स्वामी रामदेव ने इंडिया टीवी कॉन्क्लेव में कहा, 'जो योग जानता है वो कभी आतंकवादी नहीं हो सकता'

योग गुरु स्वामी रामदेव ने आज दावा किया कि 'अगर कोई योग की कला में निपुण है तो वह कभी आतंकवादी नहीं बन सकता।'

Written by: Khabarindiatv.com [Updated:13 Aug 2017, 7:15 PM IST]
स्वामी रामदेव ने इंडिया टीवी कॉन्क्लेव में कहा, 'जो योग जानता है वो कभी आतंकवादी नहीं हो सकता'

नई दिल्ली: योग गुरु स्वामी रामदेव ने आज दावा किया कि 'अगर कोई योग की कला में निपुण है तो वह कभी आतंकवादी नहीं बन सकता।' उन्होंने कहा कि इतिहास में अभी तक एक भी आदमी ऐसा नहीं हुआ जो योग में निपुण होने के बाद आतंकवादी बना हो।

वे यहां इंडिया टीवी के कॉन्क्लेव 'वंदे मातरम्' में बोल रहे थे, रामदेव ने कहा, 'एक आतंकवादी या आत्मघाती हमलावर सामान्य तौर पर 'डिस्लेक्सिक समस्या' से ग्रस्त होता है क्योंकि पूरी तरह से उसका ब्रेनवाश किया जाता है। वहीं दूसरी तरफ जो योग जानता है वह पूरी दुनिया को परिवार मानता है। उसके लिए सभी धर्म और भगवान अपनी सभी अभिव्यक्तियों में एक हैं।

वहीं योग गुरु ने पाकिस्तान और भारत के बीच युद्ध की बात भी कही। ' हमारे कई जवान रोज-रोज शहीद हो रहे हैं, उनपर लगातार हमले हो रहे हैं। इन हमलों को रोकने के लिए क्यों नहीं एक बार आर-पार की लड़ाई हो जाए? हमें पाक अधिकृत कश्मीर पर कब्जा कर उसका भारत में विलय कर लेना चाहिए।'

स्वामी रामदेव ने कहा,  'हमें बलूचिस्तान की स्वतंत्रता आंदोलन में मदद करनी चाहिए और पाकिस्तान को तीन हिस्सों में बांट देना चाहिए।'

उन्होंने चीन के सामानों का बहिष्कार करने का आह्वान भी किया, स्वामी रामदेव ने कहा कि पाकिस्तान की आतंकी गतिविधियों को चीन पूरी तरह मदद कर रहा है। ' हम बड़ी आसानी से चीन को पछाड़कर सुपरपावर बन जाएंगे'

रामदेव ने कहा, उन्हें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार से काफी उम्मीद है कि वह आतंक के मास्टर माइंड हाफिज सईद, दाऊद इब्राहिम और मसूद अजहर के खिलाफ कार्रवाई करेंगे। हमें 2019 तक इंतजार करना चाहिए, मुझे लगता है कि वे यह काम कर सकते हैं।

योग गुरु जो कि एक बड़े बिजनेस साम्राज्य को संभालते हैं, ने खुलासा किया कि उनकी कंपनी जम्मू-कश्मीर में 150 एकड़ जमीन के अधिग्रहण की प्रक्रिया में है और जल्द ही वे कश्मीर के युवाओं को रोजगार देने लगेंगे। 

You May Like