1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले, 'सरकार फेल हो तभी दखल दे कोर्ट'

कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले, 'सरकार फेल हो तभी दखल दे कोर्ट'

जजों की नियुक्ति को लेकर न्यापालिका और सरकार के बीच चल रहे टकराव के बीच कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में शासन का अधिकार चुनी हुई सरकार के पास रहता है। ऐसे में...

Khabarindiatv.com [Published on:26 Nov 2016, 8:13 PM IST]
कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद बोले, 'सरकार फेल हो तभी दखल दे कोर्ट' - India TV

नई दिल्ली: जजों की नियुक्ति को लेकर न्यापालिका और सरकार के बीच चल रहे टकराव के बीच कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने आज एक बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में शासन का अधिकार चुनी हुई सरकार के पास रहता है। ऐसे में जब सरकार फेल तभी अदालत को दखल देना चाहिए।  

(देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें)

कानून मंत्री का यह बयान ऐसे समय पर आया है जबकि आज ही सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस टीएस ठाकुर ने जजों की नियुक्ति पर कड़ी टिप्पणी की थी। उनका कहना था कि कोर्ट में जजों के पद खाली हैं लेकिन नियुक्तियां समय पर नहीं हो रही हैं। इसके साथ ही उन्होंने जजों को मिलनेवाली बुनियादी सुविधाओं की कमी का भी जिक्र किया था।

इन्हें भी पढ़ें:-

हाईकोर्ट के 500 जजों के पद खाली, बुनियादी सुविधाएं तक नहीं: CJI ठाकुर
​बेहिसाब धन जमा करने पर 50 फीसदी टैक्स, 4 साल तक निकासी पर रोक
नकदी की दिक्कत ज्यादा से ज्यादा तीन महीने तक रह सकती है: पनगढ़िया
 

You May Like

Write a comment

Promoted Content