1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. Photo Blog: कायनात काजी की जुबानी, संगाई फेस्टिवल की कहानी...

Best Hindi News Channel

Photo Blog: कायनात काजी की जुबानी, संगाई फेस्टिवल की कहानी...

Khabarindiatv.com [ Updated 29 Nov 2016, 22:20:27 ]
Photo Blog: कायनात काजी की जुबानी, संगाई फेस्टिवल की कहानी... - India TV

डॉक्टर कायनात काजी-

दिल्ली से मणिपुर तक का सफ़र लंबा है। यहां तक पहुंचने के दो ही साधन हैं, या तो बस या फिर फ्लाइट। पहाड़ों की दूर दूर तक फैली क़तारों को पार करके मणिपुर आता है। मुझे जब मणिपुर टूरिज़्म से संगाई महोत्सव न्योता आया तो जाना तो बनता ही था। हमारे देश के उत्तर पूर्वी राज्यों को सात बहनें माना जाता है। नॉर्थ ईस्ट के यह 7 राज्य बहुत खूबसूरत हैं।

Also read:

सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, नागालैंड, अरुणाचल प्रदेश, मिज़ोरम और त्रिपुरा सभी एक से बढ़ कर एक राज्य हैं। क़ुदरत ने भर-भर हाथ इन प्रदेशों को प्राकृतिक सुंदरता से नवाज़ा है। इसीलिए शायद पंडित नेहरू इसे भारत का नगीना कहा करते थे। वैसे इसे प्यार से लोग ईस्ट का स्विट्जरलैंड भी कहते हैं। मणिपुर एक छोटा राज्य है लेकिन इसका सामरिक महत्व बहुत है। मणिपुर म्यांमार के साथ 348 किलोमीटर की अंतरराष्ट्रीय सीमा साझा करता है। आप यहां से एक दिन मे भी म्यांमार होकर आ सकते हैं। हमारे देश के पड़ोसी राष्ट्रों से संबंधों की दृष्टि से भी इस राज्य का बड़ा महत्व है। यहां से होकर सड़क के रास्ते म्यांमार और थाइलैंड तक जाया जा सकता है।

हां तो हम बात कर रहे थे संगाई फेस्टिवल की। संगाई फेस्टिवल इंफाल मे नवम्बर के महीने मे हर साल बड़े ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस अवसर पर पूरे शहर को दुल्हन की तरह सजाया जाता है। शाम होते ही पूरा शहर जगमगाती रोशनियों से सज जाता है। संगाई फेस्टिवल एक ज़रिया है इस छोटे से राज्य मे फैले 34 जनजातियों की अलग-अलग संस्कृतियों से रूबरू होने का।

sangai festival - India TV

इस फेस्टिवल द्वारा पूरे के पूरे मणिपुर की आत्मा को एक जगह लाकर रख दिया जाता है। मणिपुर तीन चीज़ों के लिये जाना जाता है, यहां का नृत्य, लोक कला प्राकृतिक सुंदरता और सांस्कृतिक धरोहर।

लेखक के बारे में:

डॉक्टर कायनात काजी वैसे तो फोटोग्राफर, ट्रैवल राइटर और ब्लॉगर हैं, लेकिन खुद को वह सोलो फीमेल ट्रैवलर के रूप में ही पेश करती हैं। यायावरी उनका जुनून है और फोटोग्राफी उनका शौक। ब्लॉगिंग के लिए उन्हें देश के एक प्रतिष्ठित न्यूज चैनल द्वारा बेस्ट हिंदी ब्लॉगर का सम्मान भी दिया जा चुका है। हिंदी साहित्य में PHD कर चुकीं कायनात एक प्रोफेशनल फोटोग्राफर हैं। कायनात राहगिरी (rahagiri.com) नाम से हिंदी का पहला ट्रैवल फोटोग्राफी ब्लॉग चलाती हैं।

आगे की स्लाइड में देखिए संगाई फेस्टिवल के नजारे-

Read Complete Article
Related Tags:
loading...