1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. दिल्ली में एक और 'राम रहीम' बाबा के पापलोक का पर्दाफाश, आश्रम में करता है लड़कियों से रेप

दिल्ली में एक और 'राम रहीम' बाबा के पापलोक का पर्दाफाश, आश्रम में करता है लड़कियों से रेप

बलात्कारी राम रहीम के बाद दिल्ली में एक और बाबा का महापाप सामने आया है। ये बाबा खुद को कृष्ण का अवतार बताकर मासूम लड़कियों से रेप करता था, दिन के उजाले में ये ढोंगी बाबा प्रवचन सुनाता था...

Written by: Khabarindiatv.com [Updated:13 Nov 2017, 8:10 PM IST]
दिल्ली में एक और 'राम रहीम' बाबा के पापलोक का पर्दाफाश, आश्रम में करता है लड़कियों से रेप

नई दिल्ली: बलात्कारी राम रहीम के बाद दिल्ली में एक और बाबा का महापाप सामने आया है। ये बाबा खुद को कृष्ण का अवतार बताकर मासूम लड़कियों से रेप करता था, दिन के उजाले में ये ढोंगी बाबा प्रवचन सुनाता था और रात के अंधेरे में अश्लील हरकते करता था लेकिन राम रहीम की तरह ही उसके पापों का घड़ा भी भर गया। पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लोगों को देवता, मानवता और लोक कल्याण का संदेश देने वाला ये बाबा रेप का आरोपी है और इसका नाम है वीरेंद्र देव दीक्षित। दिल्ली के विजय विहार इलाके में 'आध्यात्मिक विश्वविद्यालय' चलाता है लेकिन ये इमारत किसी किले से कम नहीं है। इस इमारत को चारो ओर से ग्रिल से जकड़ा गया है कुछ इस तरह की बिना इजाजत कोई परिंदा भी यहां पर न मार सके। इसी किले में रह रहे बाबा के पाप लोक के खिलाफ पीड़ित लड़कियों के रिश्तेदारों ने हल्लाबोल कर दिया है। आरोप लगया कि इस आश्रम में बाबा लड़कियों से रेप करता है। आरोप ये भी है कि इस आश्रम में सैकड़ों लड़कियां भी बंधक हैं।

बाबा वीरेंद्र देव दीक्षित के पाप का घरा तब भरा जब राजस्थान के झुंझनू की एक लड़की तीन दिन पहले अपने घर से गायब हो गई। परिवार फोन लोकेशन के आधार पर यहां पहुंचा तो आश्रम में मौजूद महिलाओं ने लड़की से मिलने नहीं दिया जिसके बाद आश्रम के बाहर हंगामा शुरु हुआ और फिर लोगों की भीड़ जुटती चली गई। आश्रम में पुलिस पहुंची थी पीड़ित लड़की को बाबा के चंगुल से आजाद कराने लेकिन यहां की तस्वीर चौंकानेवाली दिखी। रेप की शिकायत पर पहुंची पुलिस को आश्रम के अंदर जाने में घंटों मशक्कत करनी पड़ी। लेकिन इसी नोक झोंक के बीच एक ऐसी लड़की सामने आई जो खुद इस आश्रम में रह चुकी है और उसने आरोप लगाया कि 14 साल की उम्र में बाबा ने उसे भी अपनी हवस का शिकार बनाया था।

रोहिणी के विजय विहार में जहां ये आश्रम चलता है वहां आस-पास के लोग भी यहां होने वाली गतिविधियों से परेशान हैं। इलाके के लोगों ने भी आरोप लगाया कि यहां पर संदिग्ध काम होते हैं यहां तक कि आश्रम में कोई मर जाता है तो भी लोगों को पता नहीं चलता। लोगों में इतना खौफ है कि वो अपने बच्चों को स्कूल-कॉलेज भेजने से डरते हैं। आरोपी बाबा वीरेंद्र देव कहां है कोई नहीं जानता।

1998 में फर्रुखाबाद में भी वीरेंद्र पर रेप का आरोप लगा था। दिल्ली में भी कई बार शिकायत हुई लेकिन पुलिस ने कार्रवाई नहीं की..अब वो जांच की बात कर रही है। फिलहाल आश्रम के बाहर पुलिस तैनात है लेकिन आश्रम की दीवारों के पीछे छिपी सच्चाई अभी सामने आनी बाकी है। हर शख्स उस सच को जनना चाहता है हालांकि पुलिस ने शिकायत मिलने पर बाबा रविन्द्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

Related Tags:

You May Like