1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. आज नीतीश भागलपुर में जिस बांध का करने वाले थे उद्घाटन उसका एक हिस्सा टूटा

आज नीतीश भागलपुर में जिस बांध का करने वाले थे उद्घाटन उसका एक हिस्सा टूटा

ट्रायल रन के दौरान स्विच आन किए जाने पर पानी के अत्यधिक दबाव के कारण इस योजना के बांध की एक दीवार के अचानक टूट जाने के बाद मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। कहलगांव में बटेश्वर गंगा पंप नहर परियोजना...

Edited by: India TV News Desk [Published on:20 Sep 2017, 10:17 AM IST]
आज नीतीश भागलपुर में जिस बांध का करने वाले थे उद्घाटन उसका एक हिस्सा टूटा

नई दिल्ली: बिहार के भागलपुर जिले में मंगलवार को ट्रायल रन के दौरान पानी के दबाव से गंगा पंप नहर योजना के बांध की दीवार के अचानक टूट जाने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा इसके उद्घाटन के कार्यक्रम को रद्द कर दिया गया है। बिहार और झारखंड़ के एक बड़े कृषि भू-भाग को सिंचित किए जाने की भागलपुर जिला के बटेश्वरस्थान में गंगा नदी पर 389.31 करोड़ रूपए की लागत वाली महात्वाकांक्षी योजना का आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा उद्घाटन किया जाना था। ये भी पढ़ें: कोलकाता की रैली में मौलाना की धमकी, 'हम 72 भी होते हैं तो लाखों का जनाजा निकाल देते हैं'

ट्रायल रन के दौरान स्विच आन किए जाने पर पानी के अत्यधिक दबाव के कारण इस योजना के बांध की एक दीवार के अचानक टूट जाने के बाद मुख्यमंत्री के कार्यक्रम को स्थगित कर दिया गया। कहलगांव में बटेश्वर गंगा पंप नहर परियोजना का काम पिछले 40 वर्षों से चल रहा था। ऐसे में बांध का हिस्सा टूटने से इस परियोजना पर एक बार फिर से ग्रहण लग गया है।

क्या है परियोजना
 
बटेश्वरस्थान गंगा पंप नहर परियोजना लिफ्ट इरिगेशन योजना है। इसके तहत बिहार के भागलपुर जिले में 18620 हेक्टेयर और झारखंड के गोड्डा जिले में 4038 हेक्टेयर क्षेत्र में सिंचाई सुविधा उपलब्ध कराने की योजना है। भागलपुर के कहलगांव प्रखंड में शेखपुरा गांव के पास गंगा नदी के दायें तट पर कोआ और गंगा नदी के संगम के पास एक पंप हाउस बनाया गया है।
 
इससे 17 मीटर पानी लिफ्ट कर उच्चस्तरीय मुख्य नहर और इससे जुड़ी वितरणियों में सिंचाई सुविधा के लिए पानी उपलब्ध करवाया जायेगा। साथ ही इससे करीब डेढ़ किमी की दूरी पर शिवकुमारी पहाड़ी के पास दूसरा पंप हाउस बनाया गया है। इससे 27 मीटर पानी लिफ्ट कर उच्चस्तरीय मुख्य नहर और इससे जुड़ी वितरणियों में सिंचाई के लिए पानी उपलब्ध करवाया जायेगा।

Related Tags:

You May Like