Ford Assembly election results 2017 Akamai CP Plus
  1. You Are At:
  2. होम
  3. भारत
  4. राष्ट्रीय
  5. दीपिका का सिर काटने पर इनाम देने की घोषणा करने वाले BJP नेता ने दिया इस्तीफा

दीपिका का सिर काटने पर इनाम देने की घोषणा करने वाले BJP नेता ने दिया इस्तीफा

फिल्म ‘पद्मावती’ की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण और निर्देशक संजय लीला भंसाली का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपए का इनाम देने की...

Reported by: Bhasha [Updated:29 Nov 2017, 3:53 PM IST]
deepika padukone- Khabar IndiaTV
deepika padukone

चंडीगढ़: फिल्म ‘पद्मावती’ की अभिनेत्री दीपिका पादुकोण और निर्देशक संजय लीला भंसाली का सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपए का इनाम देने की कथित रूप से पेशकश करने वाले भाजपा की हरियाणा इकाई के नेता सूरज पाल अमू ने आज पार्टी की राज्य इकाई के मुख्य मीडिया समन्वयक पद से इस्तीफा दे दिया। पार्टी की हरियाणा इकाई ने कुछ ही दिनों पहले नेता के इस विवादास्पद बयान को लेकर उनसे सफाई मांगते हुए उन्हें कारण बताओ नोटिस दिया था।

अमू ने राज्य भाजपा प्रमुख सुभाष बराला को व्हाट्सएप पर भेजे अपने इस्तीफे में कहा कि वह करणी सेना के प्रतिनिधियों के साथ कल बैठक में मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के कथित रूप से शामिल नहीं होने से हताश हैं। हालांकि मुख्यमंत्री के तय कार्यक्रम में इस प्रकार की किसी बैठक का जिक्र नहीं था, लेकिन राजपूत नेता ने कहा कि उन्होंने बैठक के लिए समय दिया था।

राजपूत समूह ‘पद्मावती’ फिल्म के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं। उनका आरोप है कि इस फिल्म में तथ्यों से छेड़छाड़ की गई है। अमू ने अपने इस्तीफे में कहा कि उन्होंने पिछले कुछ वर्षों में पार्टी के लिए पूरे समर्पण से काम किया है लेकिन उन्हें लगता है कि ‘‘मुख्यमंत्री खट्टर को समर्पित कार्यकर्ताओं और पदाधिकारियों की आवश्यकता नहीं है। खट्टर ऐसे लोगों की मंडली से घिरे हैं जो उन्हें पिछले तीन वर्षों से समर्पित कार्यकर्ताओं से दूर लेकर जा रहे हैं।’’

अमू ने कहा कि वह सामान्य भाजपा कार्यकर्ता की तरह काम करना जारी रखेंगे। मेरठ के एक युवक ने पांच करोड़ के इनाम की घोषणा की थी और अमू ने नयी दिल्ली में एक समारोह में इस पेशकश को दोगुना करने का बयान कथित रूप से दिया था।

अमू ने कथित रूप से कहा था, ‘‘हम उनके सिर काटने वाले को 10 करोड़ रुपए इनाम देंगे और उनके परिवार की आवश्यकताओं को भी पूरा करेंगे... हम जानते हैं कि राजपूत समुदाय का अपमान करने वालों के साथ कैसा व्यवहार करना है।’’ हरियाणा भाजपा ने इस बयान से स्वयं को तत्काल अलग कर लिया था।

You May Like