1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. नोटबंदी कड़वी दवा की तरह, लेकिन अर्थव्यवस्था के लिये शुभ: बाबा रामदेव

नोटबंदी कड़वी दवा की तरह, लेकिन अर्थव्यवस्था के लिये शुभ: बाबा रामदेव

नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की कड़वी दवा से तुलना करते हुए योग गुरु रामदेव ने मंगलवार को कहा कि 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के कदम का देश की अर्थव्यवस्था पर आने वाले...

Bhasha [Updated:29 Nov 2016, 2:26 PM IST]
नोटबंदी कड़वी दवा की तरह, लेकिन अर्थव्यवस्था के लिये शुभ: बाबा रामदेव - India TV

इंदौर: नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी के फैसले की कड़वी दवा से तुलना करते हुए योग गुरु रामदेव ने मंगलवार को कहा कि 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को चलन से बाहर करने के कदम का देश की अर्थव्यवस्था पर आने वाले दिनों में अच्छा असर होगा।

देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

रामदेव ने कहा, ‘नोटबंदी से हालांकि आम लोगों को फिलहाल कुछ समस्याएं हो रही हैं। लेकिन यह थोडे़ ही दिनों की बात है। नोटबंदी देश की अर्थव्यवस्था के लिये कड़वी दवा के रूप में है। भविष्य में इस फैसले का अर्थव्यवस्था पर अच्छा प्रभाव पडे़गा।’ उन्होंने कहा, ‘विपक्ष ने नोटबंदी के मुद्दे पर भारत बंद का आह्वान किया। लेकिन देश के लोग नोटबंदी के समर्थन में खडे़ हो गये। यह इस बात का प्रमाण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोटों को बंद करने का बड़ा साहसिक फैसला किया। वह इस फैसले को लेकर जनता का भरोसा जीतने में भी कामयाब रहे।’

इन्हें भी पढ़ें:

योग गुर ने शिवराज सिंह चौहान को मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री के रूप में लगातार 11 साल पूरे करने पर बधाई भी दी। रामदेव ने कहा, ‘शिवराज ने मुख्यमंत्री के रूप में किसानों, मजदूरों, दलितों और शोषितों के हित में अच्छा काम किया है। उनके नेतृत्व में मध्यप्रदेश ने कृषि, उद्योग, स्वास्थ्य, शिक्षा आदि क्षेत्रों में श्रेष्ठ प्रदर्शन किया है।’

You May Like

Write a comment

Promoted Content