1. Home
  2. सिनेमा
  3. बॉलीवुड
  4. सोनू निगम के अजान विवाद पर बोलीं रवीना टंडन

सोनू निगम के अजान विवाद पर बोलीं रवीना टंडन

रवीना टंडन इन दिनों अपनी फिल्म ‘मातृ’ को लेकर सुर्खियों में छाए हुई हैं। गुरुवार को वह अपनी इस फिल्म के प्रमोशन के लिए राजधानी में पहुंची। इस मौके पर उनसे सिंगर सोनू निगम के अजान पर दिए गए विवादास्पद बयान के बारे...

India TV Entertainment Desk [Published on:21 Apr 2017, 7:06 AM IST]
सोनू निगम के अजान विवाद पर बोलीं रवीना टंडन

नई दिल्ली: बॉलीवुड अभिनेत्री रवीना टंडन इन दिनों अपनी फिल्म ‘मातृ’ को लेकर सुर्खियों में छाए हुई हैं। गुरुवार को वह अपनी इस फिल्म के प्रमोशन के लिए राजधानी में पहुंची। इस मौके पर उन्होंने कहा कि धर्म के मामले में हिंदी फिल्म जगत अन्य के मुकाबले सबसे ज्यादा धर्मनिरपेक्ष है। उनसे सिंगर सोनू निगम के अजान पर दिए गए विवादास्पद बयान के बारे में पूछा गया। गौरतलब है कि हाल ही में सोनू ने हाल ही में अजान को लेकर टिप्पणी की थी, जिसके कारण वह मुसीबत में फंस गए हैं। हालांकि उन्होंने हफ्ते की शुरुआत में इसके लिए माफी भी मांग ली है। साथ ही सोनू ने अपने सिर भी मुंडवा लिया है।

सोनू निगम पर फतवा जारी करने वाले मौलवी ने अब किया ये दावा

रवीना ने पत्रकारों ने कहा, "यदि हम अपने देश की मौजूदा स्थिति को देखें, चाहे आप किसी भी धर्म के लोगों को देखें, तो धार्मिक कट्टरता गलत है। हम हमेशा से एक धर्मनिरपेक्ष और मजबूत देश में रहते आए हैं और हमें यह निरंतर बनाए रखना चाहिए।" रवीना ने कहा, "अगर दिवाली पर पटाखे नियंत्रित किए जा रहे हैं तो इसको मैं अपना समर्थन देती हूं। लेकिन, इसका मतलब यह नहीं कि मैं सांप्रदायिक हो गई। यह प्रत्येक व्यक्ति की सोच पर निर्भर करता है कि वह क्या सोचता है।"

उन्होंने कहा, "मैं विश्वास करती हूं कि हमें आधुनिक, और ज्यादा धर्मनिरपेक्ष एवं उदार भारत की ओर जाने की आवश्यकता है। धार्मिक कट्टरता गलत है।" रवीना ने बॉलीवुड के बारे में कहा, "मैं इस मनोरंजन जगत में जन्मी और पली बढ़ी हूं। मेरे पिता (रवि टंडन) एक फिल्म निर्देशक थे। मैं अपने फिल्म जगत का बेहद सम्मान करती हूं।" उन्होंने कहा, "मैं यह इसलिए नहीं कह रही हूं कि मैं इससे जुड़ी हुई हूं। मैं नहीं सोचती कि भारत में और कोई जगत इतना धर्मनिरपेक्ष है जितना कि मनोरंजन जगत। हम नहीं देखते कि कौन कहां से और किस जाति से आता है। यहां प्रतिभा और परिश्रम की पहचान की जाती है।" अश्तर सईद द्वारा निर्देशित फिल्म 'मातृ' की कहानी भारतीय समाज में महिलाओं के साथ दुष्कर्म और हिंसा पर आधारित है। यह फिल्म शुक्रवार को रिलीज होगी।