Ford Assembly election results 2017 Akamai CP Plus
  1. You Are At:
  2. होम
  3. सिनेमा
  4. बॉलीवुड
  5. ‘पद्मावती’ विवाद पर पूर्व CBFC अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने कही ये बात

‘पद्मावती’ विवाद पर पूर्व CBFC अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने कही ये बात

‘पद्मावती’ पर चल रहा सियासी मुद्दा अब भी थमने के नाम नहीं ले रहा है। इस विषय पर कई फिल्मी हस्तियां उनके सपोर्ट में सामने आ चुकी हैं। अब इस पर केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने बुधवार को कहा कि...

Edited by: India TV Entertainment Desk [Published on:06 Dec 2017, 11:49 PM IST]
padmavati- Khabar IndiaTV
padmavati

मुंबई: बॉलीवुड फिल्मकार संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती पर चल रहा सियासी मुद्दा अब भी थमने के नाम नहीं ले रहा है। इस विषय पर कई फिल्मी हस्तियां उनके सपोर्ट में सामने आ चुकी हैं। अब इस पर केंद्रीय फिल्म प्रमाणन बोर्ड (सीबीएफसी) के पूर्व अध्यक्ष पहलाज निहलानी ने बुधवार को कहा कि फिल्म उद्योग को राजनीति का शिकार बनने से बचाने की लड़ाई में एकजुट होना चाहिए। भंसाली और उनकी फिल्म 'पद्मावती' के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए निहलानी ने कहा, "संजय लीला भंसाली के प्रति मैं पूर्ण संवेदना व्यक्त करता हूं और फिल्म उद्योग के प्रति मैं चिंतित हूं, क्योंकि यह सिर्फ 'पद्मावती' का मामला नहीं है।"

निहलानी ने कहा, "कोई भी फिल्म विभिन्न पार्टियों, राजनेताओं और राजनीति के इस जाल में फंस सकती है। इसलिए मैं समझता हूं कि यह एक बुरी चीज है, और पूरे उद्योग को एकजुट होना चाहिए और फैसला करना चाहिए। आज यह 'पद्मावती' है, कल कोई भी फिल्म इस तरह की समस्या में पड़ सकती है। इसलिए हमें राजनीति का शिकार नहीं होना चाहिए।"

निहलानी ने यहां बुधवार को सोसाइटी पत्रिका के कवर का अनावरण करने के दौरान यह बात कही। इसमें वह भी मौजूद है। उन्होंने 'पद्मावती' पर हुए विवाद को सुलझाने में विफल रहने के लिए फिल्म उद्योग में एकजुटता की कमी को जिम्मेदार ठहराया। निहलानी ने वंशवाद और कास्टिंग काउच जैसे मुद्दों पर भी बात की। उन्होंने कहा कि वंशवाद बॉलीवुड में बहुत प्रचलित है। निहलानी ने कहा, "पिछले कुछ समय से नए लोग बॉलीवुड में नहीं आ रहे हैं, क्योंकि केवल 4-5 समूह है, जो विख्यात लोगों के बेटों और बेटियों को अपनी फिल्मों में ले रहे हैं।"

कास्टिंग काउच पर निहलानी ने कहा कि यह किसी भी उद्योग में हो सकता है। अपने और सीबीएफसी के नए अध्यक्ष प्रसून जोशी के बीच होने वाली तुलना पर निहलानी ने कहा, "मैं यहां तुलना करने के लिए नहीं हूं। मैंने अच्छा काम किया, मैं यह जानता हूं। वह क्या करेंगे, यह आप सभी देखेंगे। मैंने अच्छा काम किया और मीडिया ने उसको सराहा। इसके लिए मैं उनका आभारी हूं।" उन्होंने कहा, "अब आपको पता चलेगा कि वह कैसे काम कर रहे हैं और मैंने कैसे काम किया था.. कितनी फिल्में समय पर रिलीज हुईं और कितनी फिल्मों में देरी हुई।"

You May Like