1. Home
  2. सिनेमा
  3. बॉलीवुड
  4. 'ऐ दिल...' विवाद पर फॉक्स स्टार स्टूडियोज करण के समर्थन में आया सामने

'ऐ दिल...' विवाद पर फॉक्स स्टार स्टूडियोज करण के समर्थन में आया सामने

करण जौहर के निर्देशन में बनी आगामी फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ पिछले काफी वक्त से विवादों में छाई हुी है। फिल्म में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान के कारण यह विवादों में हैं। इस फिल्म की वितरक कंपनी फॉक्स स्टार स्टूडियोज के सीईओ...

India TV Entertainment Desk [Published on:19 Oct 2016, 7:51 PM IST]
'ऐ दिल...' विवाद पर फॉक्स स्टार स्टूडियोज करण के समर्थन में आया सामने - India TV

मुंबई: करण जौहर के निर्देशन में बनी आगामी फिल्म ‘ऐ दिल है मुश्किल’ पिछले काफी वक्त से विवादों में छाई हुी है। फिल्म में पाकिस्तानी कलाकार फवाद खान के कारण यह पूरा मामला विवादों में हैं। इस फिल्म की वितरक कंपनी फॉक्स स्टार स्टूडियोज के सीईओ विजय सिंह का कहना है कि फिल्मकार करण जौहर एक देशभक्त भारतीय हैं, जिनके राष्ट्रवाद पर सवाल नहीं उठया जा सकता। सिंह ने अपने बयान में कहा, "हम लोगों की तरह ही करण जौहर भी एक गर्वीले, भावुक और देशभक्त भारतीय हैं। उनकी राष्ट्रवाद पर सवाल नहीं उठाया जा सकता। फॉक्स स्टार स्टूडियोज इस मुश्किल घड़ी में पूरे दिल से उनके साथ खड़ा है।"

इसे भी पढ़े:- अब पाक कलाकारों को मौका नहीं दूंगा, ‘ADHM’ रिलीज होने दें: करण जौहर

उन्होंने कहा कि उनकी टीम को इस दीवाली के मौके पर 'ऐ दिल है मुश्किल' 28 अक्टूबर को रिलीज होने की उम्मीद है। विजय सिंह ने मंगलवार को मुंबई पुलिस के एक प्रतिनिधि से फिल्म को रिलीज करने वाले सिनेमाघरों को सुरक्षा मुहैया कराने के सिलसिले में मुलाकात की। उन्होंने कहा, "हमें आश्वासन दिया गया है कि पुलिस सिंगल स्क्रीन और मल्टीप्लेक्स सहित सभी थियेटरों में सुरक्षा मुहैया कराएगी। लेकिन क्या इसकी आवश्यकता होनी चाहिए थी?"

सिंह का बयान फिल्म में पाकिस्तानी अभिनेता फवाद खान के होने के कारण इसके विवादों में घिरने पर करण जौहर की चुप्पी तोड़े जाने के बाद आया है। करण ने लंबे समय बाद मंगलवार को कहा था कि देश उनके लिए किसी भी चीज से पहले है और भविष्य में वह पाकिस्तानी कलाकारों के साथ काम नहीं करेंगे।

फिल्म को रिलीज होने देने की अपील करते हुए करण ने एक वीडियो संदेश में कहा था, "पिछले साल सितंबर से दिसंबर के बीच जब मैंने फिल्म की शूटिंग की थी तो हालात बिल्कुल अलग थे। उस वक्त हमारी सरकार ने पड़ोसी देशों के बीच शांतिपूर्ण संबंध की कोशिश की थी। मैं उसकी सराहना करता हूं और आज की भावना का भी सम्मान करता हूं।"

करण के अनुसार, "मैं इन परिस्थितियों में आगे पड़ोसी देश की प्रतिभा के साथ काम नहीं करूंगा, लेकिन मैं यह भी कहना चाहता हूं कि इस फिल्म को बनाने में 300 से अधिक भारतीय लोगों ने योगदान दिया है, जिन्होंने अपना खून, पसीना व आंसू मेरी इस फिल्म के लिए बहाए हैं। मुझे नहीं लगता कि उन्हें पीड़ा देनी चाहिए।"

करण के इस बयान के बाद फॉक्स स्टार स्टूडियोज के सीईओ सिंह ने कहा, "हम स्पष्ट तौर पर भारत पर हुए हमले की निंदा करते हैं और भारतीयों के लिए शांति व सुरक्षा के प्रयास कर रही सरकार का समर्थन करते हैं।"

Write a comment