1. Home
  2. विदेश
  3. अमेरिका
  4. लाखों लोगों ने हिलेरी क्लिंटन के...

लाखों लोगों ने हिलेरी क्लिंटन के लिए अवैध मतदान किया: ट्रंप

India TV News Desk 28 Nov 2016, 12:07:36
India TV News Desk

वॉशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने अभूतपूर्व आरोप लगाते हुए कहा है कि आठ नवंबर को हुए चुनाव में लाखों लोगों ने हिलेरी क्लिंटन के लिए अवैध मतदान किया और उन तीन राज्यों में गंभीर धांधली हुई जहां उन्हें (ट्रंप को) हार मिली थी। ट्रंप ने अपने इन दावों के समर्थन में कोई सबूत पेश नहीं किया। उन्होंने कहा कि यदि आप अवैध मतदान करने वाले लाखों लोगों के मतों को हटा दें तो वह अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव में लोकप्रिय मतों के मामले में भी विजयी रहते।

उन्होंने कल शाम कई ट्वीट करते हुए कहा, यदि आप अवैध मतदान करने वाले लाखों लोगों के मतों को हटा दें तो मैं निर्वाचन मंडल के मतों के मामले में शानदार जीत हासिल करने के साथ ही लोकप्रिय मतों के मामले में भी विजयी रहता।

उन्होंने आरोप लगाया कि वर्जीनिया, न्यू हैम्पशायर और कैलिफोर्निया में मतदान संबंधी गंभीर धोखाधड़ी हुई थी। इस राज्यों में उन्हें हार मिली थी। राष्ट्रपति बनने के लिए निर्वाचन मंडल के आवश्यक मत जीतने वाले ट्रंप ने ऐसे समय में ये आरोप लगाए हैं जब लोकप्रिय मतों के मामले में हिलेरी ने ट्रंप के खिलाफ 20 लाख मतों से अधिक की बढ़त बना ही है और इस बढ़त के बढ़कर 25 लाख मत से भी अधिक हो जाने की संभावना है क्योंकि कैलिफोर्निया जैसे अधिक जनसंख्या वाले राज्यों में अभी मतगणना जारी है।

राष्ट्रपति पद का चुनाव जीतने के लिए निर्वाचन मंडल के 270 मतों की आवश्यकता है जबकि हिलेरी को 232 मत ही मिले। रिपब्लिकन अरबपति ने ऐसे समय में आरोप लगाए हैं जब राष्ट्रपति पद के चुनाव में अहम रहे विस्कॉन्सिन में पुन: मतगणना की दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं। विस्कॉन्सिन में ट्रंप ने जीत प्राप्त की थी। इससे पहले ट्रंप ने विस्कॉन्सिन में मतों की फिर से गणना को घोटाला बताया था और कहा कि राष्ट्रपति पद के चुनाव के परिणामों को चुनौती देने के बजाए उनका सम्मान किया जाना चाहिए। ट्रंप ने एक अन्य ट्वीट में कहा, मैं जिन 15 राज्यों में गया, यदि मैंने उनके बजाए मात्र तीन या चार राज्यों में प्रचार किया होता तो मेरे लिए तथाकथित लोकप्रिय मत जीतना निर्वाचन मंडल के मत जीतने से भी अधिक आसान होता। मैं और भी अधिक आसानी से चुनाव जीत जाता (लेकिन छोटे राज्यों को भुला दिया जाता)।

इसके कुछ ही देर बाद उन्होंने एक अन्य ट्वीट किया और तीन राज्यों में मतदान में धांधली का आरोप लगाया। ट्रंप ने कहा, वर्जीनिया, हैम्पशायर और कैलिफोर्निया में मतदान में गंभीर धोखाधड़ी हुई- मीडिया इस पर रिपोर्टिंग क्यों नहीं कर रहा? गंभीर पक्षपात - बड़ी समस्या। किसी निर्वाचित राष्ट्रपति की ओर से इस प्रकार के आरोप अभूतपूर्व हैं। ऐसा पहली बार हुआ है जब ट्रंप ने अपनी जीत के बाद मतदान में धोखाधड़ी का आरोप लगाया है लेकिन न तो ट्रंप और न ही उनकी प्रचार मुहिम ने इस बात की जानकारी दी है कि इस प्रकार का आरोप क्यों लगाया गया है या उनके पास इस बात का कोई सबूत है या नहीं।

वाशिंगटन पोस्ट ने इन आरोपों को निराधार बताया है जबकि न्यूयार्क टाइम्स ने कहा है कि इन दावों का कोई सबूत नहीं है। राष्ट्रपति के सत्ता हस्तांतरण दल ने इस संबंध में किसी प्रश्न का उत्तर नहीं दिया। इससे एक दिन पहले क्लिंटन कैंपेन ने कहा था कि वह विस्कॉन्सिन, फिलाडेल्फिया और मिशिगन में मतों की फिर से गणना के ग्रीन पार्टी के प्रयासों में शामिल होगी। ट्रंप ने इन तीनों राज्यों में मामूली अंतर से जीत प्राप्त की थी।