1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स की चेतावनी, नहीं...

फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स की चेतावनी, नहीं सुधरा पाकिस्तान, तो होगा बर्बाद

विश्व बैंक की रिपोर्ट में जहां भारत की रैंकिंग में उछाल हुआ है वहीं एक दूसरी रिपोर्ट ने पाकिस्तान के लिए खतरा पैदा कर दिया है। फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स की रिपोर्ट साफ साफ चेतावनी दे रही है कि अगर पाकिस्तान नहीं सुधरा तो बर्बाद हो जाएगा।

Edited by: India TV News Desk 01 Nov 2017, 13:22:46 IST
India TV News Desk

विश्व बैंक की रिपोर्ट में जहां भारत की रैंकिंग में उछाल हुआ है वहीं एक दूसरी रिपोर्ट ने पाकिस्तान के लिए खतरा पैदा कर दिया है। फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स की रिपोर्ट साफ साफ चेतावनी दे रही है कि अगर पाकिस्तान नहीं सुधरा तो बर्बाद हो जाएगा। फ्रेजाइल स्टेट्स इंडेक्स 2017 की रिपोर्ट में पाकिस्तान को 20 असफल देशों की फेहरिस्त में रखा गया है और उसे कई कड़ी नसीहतें दी गई हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तान को पड़ोसी देशों में आतंकी भेजकर वहां अस्थिरता फैलाने की जगह खुद को बर्बादी से बचाने पर ध्यान देना चाहिए और अपनी सुरक्षा की ज्यादा चिंता करनी चाहिए। रिपोर्ट में कहा गया है, 'पाकिस्तान खुद ही अनुकूल परिस्थितियों और ऐसे पड़ोसियों से घिरा है, जो उसके लिए खतरा बन सकते हैं। हालांकि, पाकिस्तान के समक्ष प्रमुख खतरा उसके आंतरिक बलों, विरोधाभासी मानसिकता, सैन्य प्रभुत्व, भ्रष्टाचार और अनुपयुक्त नेताओं, विभिन्न राष्ट्रीयताओं, बढ़ रही आबादी, घटते जल संसाधन और बिगड़ रही आर्थिक स्थिति से है। ये ताकतें पाकिस्तान के पतन का कारण बन सकती हैं। (ब्रह्मपुत्र नदी के पानी को मोड़ने के लिए सुरंग नहीं बना रहा चीन, मीडिया रिपोर्ट को किया खारिज)

पाकिस्तान ने भारत और अफगानिस्तान के खिलाफ प्रॉक्सी वॉर छेड़ रखी है, इस लड़ाई के लिए लशकर, जैश, हिजबुल और तालिबान जैसे आतंकी खड़े कर रखे हैं, रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान की आंतरिक ताकतें भी खतरा बनी हुई हैं,इसके अलावा पाकिस्तान की जीडीपी दर महज 3 फीसदी है जबकि उसके सिर पर 73 अरब डॉलर का कर्ज है, पाकिस्तान  में चीन 50 अरब डॉलर का निवेश कर रहा है, अगर पाकिस्तान कर्ज नहीं चुका पाया तो चीन पाकिस्तान के इलाकों को खुद में मिला लेगा।

पाकिस्तान की इस हालत के लिए पूरी दुनिया में चिंता जताई गई है साथ ही पाकिस्तान को सलाह दी गई है कि वो रक्षा बजट को कम करे, शिक्षा, परिवार नियोजन और स्वास्थ्य में निवेश करे, सेना को बैरकों में लौटना चाहिए। आईएसआई की ताकत कम करनी चाहिए और सभी आतंकी ठिकानो को नष्ट कर देना चाहिए।