1. Home
  2. विदेश
  3. एशिया
  4. पाक: 6 आतंकवादियों की मौत, सलमान...

पाक: 6 आतंकवादियों की मौत, सलमान तासीर के बेटे का अपहरणकर्ता भी शामिल

India TV News Desk 17 Oct 2016, 16:23:05
India TV News Desk

इस्लामाबाद: पाकिस्तान के पंजाब प्रांत में सुरक्षाकर्मियों के साथ मुठभेड़ में छह तालिबान आतंकवादी मारे गए। इनमें पंजाब प्रांत के दिवंगत गवर्नर सलमान तासीर के बेटे का कथित तौर पर अपहरण करने वाला शख्स शामिल है। आतंकवाद रोधी विभाग (CTD) ने गुप्त सूचना के आधार पर शनिवार को शेखपुरा बाईपास के पास एक मकान पर छापा मारा था। वहां प्रतिबंधित तहरीक-ए-तालिबान (TTP) के नौ से 10 सदस्य छिपे हुए थे।

CTD के प्रवक्ता ने बताया कि उन्होंने एक कार और दो मोटरसाइकिल के जरिए भागने की कोशिश की लेकिन सुरक्षाकर्मियों ने उनका पीछा किया। आतंकवादियों ने सुरक्षाकर्मियों पर गोलियां चलाईं जिसके बाद सुरक्षा बलों ने जवाबी कार्रवाई की। डॉन के अनुसार प्रवक्ता ने कहा, गोलीबारी खत्म होने बाद छह आतंकवादी मरे पाए गए और बाकी फरार हो गए। रिपोर्ट के अनुसार CTD कर्मियों ने तीन कलाश्निकोव राइफल, तीन पिस्तौलें, दो किलोग्राम विस्फोटकों, प्राइमा कॉड्र्स और गोलियों के जखीरे सहित हथियार एवं गोलाबारूद जब्त किए।

मारे गए आतंकवादियों की पहचान के लिए शवों को अस्पताल ले जाया गया है। इसके अलावा फरार संदिग्धों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने इलाके में तलाशी अभियान शुरू किया। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी का हवाला देते हुए कहा गया कि CTD जांच दल ने एक मृतक की पहचान हाजी मोहम्मद उर्फ पठान के तौर पर की है। पठान पर दिवंगत गवर्नर सलमान तासीर के बेटे शाहबाज तासीर को अगवा करने का आरोप है।

अधिकारी ने बताया कि पठान को भगोड़ा अपराधी घोषित किया गया था और उसका नाम सर्वाधिक वांछित आतंकवादियों की सूची में दर्ज किया गया था। पठान ने लाहौर के वालेंसिया टाउन में एक घर किराए पर लिया हुआ था। तासीर के अपहरणकर्ताओं ने उसे संघ प्रशासित कबायली क्षेत्र (फाटा) ले जाने से पहले कई दिनों तक इसी घर में रखा था।

लाहौर में गुलबर्ग पुलिस में पठान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की गई थी। अधिकारी ने बताया कि पठान दो प्रतिबंधित संगठनों- TTP और इस्लामिक मूवमेंट ऑफ उज्बेकिस्तान से संबंधित था। अधिकारी ने बताया, बाकी के पांच आतंकवादियों की पहचान सुनिश्चित करने के प्रयास जारी हैं। शाहबाज को 26 अगस्त 2011 को गुलबर्ग स्थित उनकी कंपनी के मुख्य दफ्तर के पास से अगवा कर लिया गया था। इस साल की शुरू में उन्हें रिहा किया गया था। 2011 में ईशनिंदा कानून की आलोचना के आरोप में शाहबाज के पिता सलमान तासीर की हत्या कर दी गई थी।