1. Home
  2. खेल
  3. अन्य खेल
  4. आईएसएल: अपने घर में मुंबई से...

आईएसएल: अपने घर में मुंबई से भिड़ेगी दिल्ली

Bhasha 18 Oct 2016, 12:21:19
Bhasha

नई दिल्ली: दिल्ली डायनामोज टीम हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के तीसरे सीजन में मंगलवार को अपने घरेलू मैदान जवाहरलाल नेहरू स्टेडियम में मुंबई सिटी एफसी से भिड़ेगी। दिल्ली को उसके घर में दो दिन पहले हुए मुकाबले में नार्थईस्ट यूनाइटेड एफसी ने बराबरी पर रोका था।

मौजूदा चैम्पियन चेन्नयन एफसी के खिलाफ जीत दर्ज करते हुए मौजूदा सीजन का शानदार आगाज करने वाली दिल्ली की टीम इस सीजन में अब तक अजेय है।

दूसरी ओर मुम्बई को चार में से दो मैचों में जीत मिली है, एक मैच ड्रॉ रहा है और एक मैच में उन्हें हार झेलनी पड़ी है। दिल्ली ने अब तक तीन मैच खेले हैं। इनमें से एक मैच में उसे जीत मिली है, जबकि शेष दो मैच ड्रॉ रहे हैं।

मुम्बई जहां दिल्ली को उसी के घर में हराकर जीत की पटरी पर लौटना चाहेगी, वहीं दिल्ली अपने अजेय क्रम को जारी रखते हुए घरेलू दर्शकों को इस सीजन में पहली जीत का तोहफा देना चाहेगी।

दिल्ली के कोच गियानलुक जाम्ब्रोता ने मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में कहा, "हमने नॉर्थईस्ट के खिलाफ शानदार खेला। हमने यह सीखा है कि किस तरह से मौकों का लाभ उठाया जाए। हालांकि मैं मानता हूं कि हमें अपनी रणनीति में बदलाव की जरूरत नहीं है।"

इटली की विश्व कप विजेता टीम के सदस्य रहे जाम्ब्रोता ने अपने मुंबई के समकक्ष से उलट तीनों मैचों में एक ही संयोजन को आजमाया है। आने वाले मैचों में भी वह संयोजन में बदलाव के पक्षधर नहीं दिखते।

मुंबई अपने कप्तान और मार्की खिलाड़ी डिएगो फोर्लान के बगैर ही दिल्ली पहुंची है। मैनचेस्टर यूनाइटेड के पूर्व स्ट्राइकर चोटिल हैं। कोच एलेक्जेंडर गुइमाराएस ने कहा है कि डिएगो एफसी गोवा के साथ होने वाले मैच तक पूरी तरह फिट हो जाएंगे।

गुइमाराएस हालांकि कई प्रमुख खिलाड़ियों की अनुपस्थिति से चिंतित नहीं हैं। उन्होंने इस सीजन में अब तक कई अहम खिलाड़ियों के बगैर ही अच्छा खेल दिखाया है। उनके कई खिलाड़ी चोटिल हैं, कई अंतर्राष्ट्रीय प्रतिबद्धताओं के कारण अब तक टीम से नहीं जुड़ सके हैं और चार खिलाड़ी एएफसी कप में बेंगलुरू एफसी के लिए खेल रहे हैं। इनमें भारतीय टीम के कप्तान सुनील छेत्री भी शामिल हैं।

गुइमाराएस ने कहा, "मेरी नजर में दिल्ली की टीम इस साल लीग में अच्छा खेल रही है। यह टीम काफी आकर्षक फुटबॉल खेलने की कोशिश कर रही है। उसने दिखाया है कि इस साल उसे हराना मुश्किल है। मैं उम्मीद करता हूं कि परिणाम हमारे पक्ष में रहेगा।"

गुइमाराएस ने कहा, "हमने चार मैच खेले हैं और इनमें से तीन घर से बाहर खेले गए हैं। हमें बाहर के मैचों से अंक हासिल करने की महत्ता समझ में आ गई है। हमने पुणे में अच्छा खेल दिखाया, लेकिन केरल में एक भी अंक नहीं हासिल कर सके। अब मैं यह आशा करता हूं कि हमारा अगला मैच अच्छा होगा और हम यहां से अंक लेकर जाएंगे।"