1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. क्या खाकर वीवीएस लक्ष्मण करते थे...

क्या खाकर वीवीएस लक्ष्मण करते थे कंगारुओं की कुटाई? अब खोला सचिन तेंदुलकर ने राज़

आज लक्ष्मण अपना जन्मदिन मना रहे हैं. इस मौके पर उनकी टीम में साथी रहे खिलाड़ी जन्मदिन की शुभकामनाएं दे रहे हैं. इनमें से एक हैं मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर. उनके जन्मदिन के मौके पर सचिन ने लक्ष्मण को वर्थ डे विश करते हुए एक राज़ खोला.

Written by: India TV Sports Desk 01 Nov 2017, 14:44:24 IST
India TV Sports Desk

नई दिल्ली: सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ के ज़माने में टीम इंडिया में एक ऐसा भी बल्लेबाज़ था जो ख़ामोशी से रन बनाते रहता था और अक़्सर चकाचौंध से दूर रहता था. इस बल्लेबाज़ की बैटिंग की स्टाइल की तुलना पूर्व कप्तान मोहम्मद अहज़रुद्दीन के साथ की जाती थी जिन्हें कलाइ का जादूगर माना जाता था. हम बात कर रहे हैं आंध्र प्रदेश के बल्लेबाज़ वीवीएस लक्ष्मण की. लक्ष्मण की बल्लेबाज़ी के कायल ऑस्ट्रेलिया के महान खिलाड़ी इयान चैपन भी थे जिन्होंने उन्हें वैरी वैरी स्पेशल लक्ष्मण कहा था. 

दरअसल आज लक्ष्मण अपना जन्मदिन मना रहे हैं. इस मौके पर उनकी टीम में साथी रहे खिलाड़ी जन्मदिन की शुभकामनाएं दे रहे हैं. इनमें से एक हैं मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर. उनके जन्मदिन के मौके पर सचिन ने लक्ष्मण को वर्थ डे विश करते हुए एक राज़ खोला. उन्होंने लिखा... हेप्पी बर्थडे लक्ष्मण, क्या मैं इस मौके पर आपकी रन बनाने की क्षमता के बारे में एक खुलासा कर सकता हूं. आपकी कामयाबी के पीछे का राज है मैच में बल्लेबाजी से पहले नहाना और एक सेब खाना.

लक्ष्मण पक्के शाकाहारी हैं. वह साई बाबा के भक्त भी हैं. गौरतलब है कि अपने करिअर के दौरान लक्ष्मण अगर किसी टीम के लिए बुरे सपने की तरह रहे तो वह टीम है ऑस्ट्रेलिया. यहां भी गौर करने वाली बात ये भी है कि ये टीम आज की स्टीव स्मिथ की टीम जैसी नहीं थी. ये वो टीम ऑस्ट्रेलिया थी, जो जीत के हर दिन नए रिकॉर्ड बनाती थी. स्टीव वॉ के नेतृत्व में पूरी दुनिया में ऑस्ट्रेलिया का डंका बजता था. लेकिन लक्ष्मण के लिए ये कोई खास बात नहीं थी. वह जहां भी मौका मिलता ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों को जमकर कूटते थे. बात चाहे भारत के मैदानों की हो, या फिर पर्थ,  एडिलेड और सिडनी जैसे मैदानों की.

लक्ष्मण ने अपने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट करिअर में कुल 11125 रन बनाए. इनमें से 3173 रन तो अकेले उन्होंने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए थे. इसमें भी 2000 रन उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में बनाए. इतना ही वनडे में उन्होंने 4 शतक भी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाए. टेस्ट क्रिकेट में सचिन के बाद वह दूसरे बल्लेबाज हैं, जिसने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दो हजार से ज्यादा रन बनाए.