1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. मोहाली टेस्ट: भारत के पहली पारी...

मोहाली टेस्ट: भारत के पहली पारी में 417 रन, जयंत की भी फिफ्टी

IANS 28 Nov 2016, 14:52:40
IANS

मोहाली: भारत ने इंग्लैंड के खिलाफ पंजाब क्रिकेट संघ मैदान पर चल रहे तीसरे टेस्ट मैच के तीसरे दिन सोमवार को अपनी पहली पारी में 417 रन बनाए और पहली पारी के आधार पर इंग्लैंड पर 134 रनों की बढ़त ले ली है। भारत के लिए निचले क्रम पर रविचंद्रन अश्विन (72), रवींद्र जडेजा (90) और जयंत यादव (55) ने अर्धशतकीय पारियां खेलीं।

खेल से जुड़ी ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

भारतीय क्रिकेट के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है कि सातवें क्रम से निचले क्रम के तीन-तीन बल्लेबाजों ने अर्धशतकीय पारियां खेली हैं। जयंत के करियर का यह पहला अर्धशतक है। उन्होंने 141 गेंदों की अपनी संघर्षभरी पारी में 5 चौके लगाए और उमेश यादव (12) के साथ नौवें विकेट के लिए 33 रनों की साझेदारी निभाई। इससे पहले जयंत ने जडेजा के साथ भी 80 रन जोड़े। रविवार को नाबाद लौटे जडेजा शतक से चूक गए और आदिल राशिद की गेंद पर लंबा शॉट लगाने के प्रयास में सीमारेखा के पास क्रिस वोक्स के हाथों लपके गए। जडेजा ने 170 गेंदों का सामना किया और 10 चौके तथा एक छक्का लगाया।

​पढ़ें: मोहाली टेस्ट: ...और इस तरह अश्विन ने कपिल देव की बराबरी की

भारत ने तीसरे दिन पहले सत्र में रविचंद्रन अश्विन (72) के रूप में एकमात्र विकेट गंवाया। जडेजा के साथ दूसरे दिन नाबाद लौटे अश्विन ने तीसरे दिन भी इस साझेदारी को करीब 11 ओवरों तक आगे बढ़ाया। 113 गेंदों पर 11 चौके लगा चुके अश्विन का विकेट 301 के कुल योग पर गिरा। उन्हें बेन स्टोक्स की गेंद पर जोस बटलर ने लपका। अश्विन ने जडेजा के साथ सातवें विकेट के लिए 97 रनों की साझेदारी निभाई। इससे पहले, भारतीय पारी में पार्थिव पटेल (42), चेतेश्वर पुजारा (51) और कप्तान विराट कोहली ने अहम योगदान दिए। इंग्लैंड के लिए बेन स्टोक्स ने पांच और आदिल राशिद ने चार विकेट लिए। करुण नायक रन आउट हुए थे।

अपनी शानदार पारी के बाद पवेलियन वापस लौटते रविंद्र जडेजा। (AP फोटो)

इंग्लैंड ने पहली पारी में जॉनी बेयरस्टो (89) और जोस बटलर (43) की बदौलत 283 रन बनाए हैं। इंग्लैंड की पारी सस्ते में समेटने में भारतीय गेंदबाजों ने संयुक्त प्रयास किया। मोहम्मद समी ने तीन विकेट चटकाए, जबकि उमेश यादव, जयंत और जडेजा ने दो-दो विकेट हासिल किए। अश्विन को एक सफलता मिली। पांच मैचों की श्रृंखला में भारत 1-0 की बढ़त ले चुका है। राजकोट में हुआ पहला टेस्ट ड्रॉ रहा था, जबकि विशाखापट्नम में हुआ दूसरा टेस्ट भारत 246 रनों से जीतने में सफल रहा था।