1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. विदेशों के लिए भारत को चाहिए...

विदेशों के लिए भारत को चाहिए 5-6 गेंदबाज़: नेहरा

हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि भारत को 2018 में प्रस्तावित विदेशी दौरों के लिए पांच-छह तेज गेंदबाजों की दरकार है।

Reported by: IANS 17 Nov 2017, 18:33:50 IST
IANS

कोलकाता: हाल ही में अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले पूर्व तेज गेंदबाज आशीष नेहरा का मानना है कि भारत को 2018 में प्रस्तावित विदेशी दौरों के लिए पांच-छह तेज गेंदबाजों की दरकार है। नेहरा ने दो नवम्बर को दिल्ली के फिरोज शाह कोटला मैदान पर न्यूजीलैंड के खिलाफ टी-20 के रूप में अपने करियर का आखिरी अंतर्राष्ट्रीय मैच खेला था। 

नेहरा ने शुक्रवार को ईडन गार्डन्स स्टेडियम में संवाददाताओं से कहा, "ईशांत शर्मा बाहर बैठे हुए हैं। जसप्रीत बुमराह भी बाहर हैं। हमारे पास चार, पांच, छह तेज गेंदबाजों का अच्छा पूल है। हमें आने वाले माह में जिस तरह की क्रिकेट खेलनी है, उसे देखते हुए हमें टेस्ट क्रिकेट के साथ-साथ दो अन्य प्रारूपों में पांच-छह गेंदबाजों की जरूरत है।"

अगले साल जनवरी में भारत को दक्षिण अफ्रीका का दौरा करना है। इस दौरे पर भारत तीन टेस्ट, छह वनडे और तीन टी-20 मैच खेलेगा। इसके बाद भारतीय टीम नवंबर-जनवरी-2019 में आस्ट्रेलिया के दौर पर होगी। नेहरा ने कहा कि कोलकाता की हरी विकेट मौसम के कारण चर्चा में हैं जिसमें बारिश रूक-रूक कर बाधा बन रही है। 

पहले दिन गुरुवार को सिर्फ एक घंटे का खेल ही हो सका। वहीं दूसरे दिन समय से पहले भोजनकाल की घोषणा कर दी गई। नेहरा ने कहा, "विकेट अच्छी है, लेकिन यह बारिश के कारण है कि इसमें नमी है। इसके अलावा एक-दो ओवर बाद यह अच्छी विकेट हो जाएगी।"

नेहरा ने कहा, "विकेट में सीम, स्विंग और उछाल सभी हैं लेकिन वो बारिश की वजह से। हां मैंने इतनी घांस वाली विकेट भारत में नहीं देखी, इससे पहले शायद डेल स्टेन ने हैदराबाद या नागपुर में पांच-छह विकेट लिए थे और उस विकेट पर काफी घांस थी। गेंदबाज को खुद नहीं पता होता कि गेंद किस तरह से आनी है, तो बल्लेबाज को कैसे पता होगा?"

इस पूर्व तेज गेंदबाज ने कहा, "आप हाथ देखकर कुछ भी नहीं पकड़ सकते। जैसा आपने विराट को आउट होते हुए देखा, लकमल ने आउट स्विंग डाली लेकिन गेंद पड़ने के बाद अंदर आ गई। इसलिए गेंदबाजों के लिए भी यह विकेट काफी मुश्किल सी है।"