1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. IND vs SL दाम्बुला वनडे: धवन-कोहली...

IND vs SL दाम्बुला वनडे: धवन-कोहली के तूफान में उड़ा श्रीलंका, भारत 9 विकेट से जीता

Written by: Khabarindiatv.com 20 Aug 2017, 20:43:32 IST
Khabarindiatv.com

दाम्बुला: स्पिनर्स द्वारा की गई शानदार गेंदबाजी के बाद शिखर धवन और कप्तान विराट कोहली की तूफानी बल्लेबाजी के दम पर भारत ने पहले वनडे में श्रीलंका को 9 विकेट से हरा दिया। धवन ने सिर्फ 90 गेंदों पर 20 चौके और 3 छक्के जड़ते हुए 132 रन की धमाकेदार शतकीय पारी खेली, जबकि कोहली ने 10 चौकों और एक छक्के की मदद से 70 गेंदों पर 82 रन बनाए। भारत ने सिर्फ 28.5 ओवर में ही श्रीलंका द्वारा दिए गए 217 रन के लक्ष्य को हासिल कर लिया। रांगिरी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में रविवार को खेले गए 5 एकदिवसीय मैचों की सीरीज के पहले मुकाबले में भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करते हुए श्रीलंका को महज 43.2 ओवर्स में 216 रनों पर समेट दिया था। श्रीलंका ने शुरुआत अच्छी की थी लेकिन भारतीय स्पिनरों के आक्रमण के सामने उसके बल्लेबाज बेबस नजर आए।

217 रन के आसान लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने संभलकर शुरुआत की। हालांकि भारत का पहला विकेट सिर्फ 23 रन के कुल योग पर गिर गया जब रोहित शर्मा (4) रन आउट हो गए। हालांकि उसके बाद फॉर्म में चल रहे ओपनर शिखर धवन और विराट कोहली ने ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करते हुए मैच पर भारत की पकड़ बनाए रखी। शिखर धवन और विराट कोहली ने रोहित के बाद भारत का कोई भी विकेट गिरने नहीं दिया और भारत को लक्ष्य तक पहुंचाकर ही वापस लौटे। शिखर धवन ने नाबाद 132 और कप्तान विराट कोहली ने नाबाद 82 रनों की पारी खेली। भारत की तरफ से आउट होने वाले एकलौते बल्लेबाज रोहित शर्मा रहे, जो कि रनआउट हुए। इस मैच में श्रीलंका का कोई भी गेंदबाज विकेट हासिल करने में नाकाम रहा।

इससे पहले टॉस हारने के बाद बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम के लिए डिकवेला और धनुष्का गुनाथिलाका (35) ने अच्छी शुरुआत की। इन दोनों ने शुरुआती 10 ओवरों तक अच्छे रन रेट के साथ रन बटोरे। दोनों अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे लेकिन 14वें ओवर की अंतिम गेंद तथा 74 के कुल योग पर चहल ने गुनाथिलाका को आउट करके भारत को पहली सफलता दिलाई। श्रीलंका को इससे अधिक फर्क नहीं पड़ा क्योंकि डिकवेला न इसके बाद कुशल मेंडिस (36) के साथ पारी को आगे बढ़ाया और नुकसान की भरपाई की लेकिन 139 के कुल योग पर जाधव की गेंद पर डिकवेला के पगबाधा होने के साथ ही मानो किस्मत मेजबान टीम से रूठ गई। डिकवेला ने मेंडिस के साथ दूसरे विकेट के लिए 65 रन जोड़े लेकिन इसके बाद मेजबान टीम ने अगले 6 विकेट सिर्फ 39 रन के कुल योग पर गंवा दिए। एक समय उसका स्कोर एक विकेट 139 रन था और दूसरी ओर उसका स्कोर 7 विकेट पर 178 हो गया।

भारतीय गेंदबाजों की अनुशासित गेंदबाजी के आगे मेजबान टीम के बल्लेबाज इस कदर बेबस नजर आए कि 20वें से 36वें ओवर के बीच वे सिर्फ 61 रन ही बटोर सके। कप्तान उपुल थरंगा (13) टेस्ट सीरीज की तरह यहां भी फ्लॉप रहे। कप्तान मैथ्यूज ने 50 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 36 रन बनाए लेकिन श्रीलंका के अंतिम 6 बल्लेबाज दहाई तक भी नहीं पहुंच सके। मेजबान टीम की ओर से सलामी बल्लेबाज निरोशन डिकवेला ने सबसे ज्यादा 64 रन बनाए थे। कप्तान एंजेलो मैथ्यूज 36 रनों पर नॉटआउट लौटे। भारत की ओर से पटेल के अलावा केदार जाधव, युजवेंद्र चहल और जसप्रीत बुमराह को 2-2 सफलता मिली।

टेस्ट सीरीज में करारी हार के बाद श्रीलंकाई टीम पर दोतरफा दबाव है। उसे सीरीज जीतकर 2019 विश्व कप के लिए सीधे क्वॉलिफाई करना है। श्रीलंका को अगर विश्व टूर्नामेंट के लिए सीधे तौर पर प्रवेश करना है, तो उसे भारत के खिलाफ कम से कम 2 वनडे मैचों में जीत दर्ज करनी होगी। श्रीलंका के लिए भारत को हरा पाना बेहद मुश्किल नजर आ रहा है क्योंकि 1997 के बाद से उसने एक बाद भी भारत को द्विपक्षीय सीरीज में नहीं हराया है। उस समय से लेकर आज तक भारत और श्रीलंका के बीच कुल 9 सीरीज हुई हैं, जिनमें से 7 बार भारत जीता है जबकि 2 सीरीज ड्रॉ रही हैं।