1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. विशाखापत्तनम टेस्ट: पहली पारी में भारत...

विशाखापत्तनम टेस्ट: पहली पारी में भारत 455 रन बनाकर आउट

Khabarindiatv.com 18 Nov 2016, 13:37:31
Khabarindiatv.com

विशाखापत्तनम: इंग्लैंड के खिलाफ चल रही टेस्ट सीरीज के दूसरे मैच की पहली पारी में भारत सभी विकेट खोकर 455 रन बनाने में कामयाब रहा। भारत की पारी में सबसे ज्यादा 167 रन विराट कोहली ने बनाए। रविचंद्रन अश्विन ने पुछल्ले बल्लेबाजों के साथ मिलकर स्कोर को 400 के पार पहुंचाने में अहम भूमिका निभाई।

खेल की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

इससे पहले, गुरुवार के अपने स्कोर 317 रनों पर 4 विकेट से आगे खेलने उतरी मेजबान टीम के लिए दिन का पहला सत्र निराशाजनक रहा। भारत ने इस सत्र में अपने 3 विकेट गंवाए। लेकिन इसके बाद अश्विन और जयंत ने भारतीय पारी को संभाल लिया। दोनों के बीच आठवें विकेट के लिए 64 रन की महत्वपूर्ण साझेदारी हुई। इस साझेदारी को बेन स्टोक्स ने अश्विन (58) को आउट करके तोड़ दिया। अश्विन के पवेलियन लौटने के कुछ देर बाद ही जयंत भी चलते बने। जयंत ने 35 रन की उपयोगी पारी खेली।

अश्विन का शॉट रोकने में नाकाम रहने पर झुंझला उठे स्टोक्स। (AP फोटो)

भारत ने दिन का पहला विकेट कप्तान विराट कोहली (167) के रूप में गंवाया। अपने तीसरे दोहरे शतक की ओर अग्रसर हो रहे कोहली शुक्रवार को अपने खाते में 16 रन जोड़ने के बाद 351 के कुल स्कोर पर मोइन अली का शिकार बने। अली की ऑफ स्टम्प के बाहर की गेंद पर कोहली ने ड्राइव लगाने की कोशिश की, लेकिन गेंद उनके बल्ले का किनारा लेते हुए स्लिप में खड़े बेन स्टोक्स के हाथों में समा गई।

मोइन अली ने आज शानदार गेंदबाजी की। (AP फोटो)

स्टोक्स ने कोहली के पवेलियन लौटने से ठीक पहले रविचंद्रन अश्विन का कैच अली की ही गेंद पर स्लिप पर छोड़ा था। अली ने ही रिद्धिमान साहा (3) को भी पवेलियन लौटाया। साहा के जाने के एक गेंद बाद ही रवींद्र जडेजा बिना खाता खोले पवेलियन लौट गए। वह अली की गेंद पर एलबीडब्ल्यू करार दिए गए। दोनों के विकेट 363 के कुल योग पर गिरे।

जब दर्शकों ने लहराया तिरंगा। (AP फोटो)

भारत ने पहले दिन लोकेश राहुल (0), मुरली विजय (20), चेतेश्वर पुजारा (119) और अजिंक्य रहाणे (23) के विकेट गंवाए थे। पहले दिन के पहले सत्र में राहुल और विजय जल्दी आउट हो गए थे। इसके बाद कोहली ने पुजारा के साथ तीसरे विकेट के लिए 226 रनों की साझेदारी कर टीम को मजबूत स्थिति में पहुंचा दिया था। इंग्लैंड की तरफ से जेम्स ऐंडरसन और मोइन अली ने 3-3, जबकि आदिल रशीद ने 2 विकेट लिए। स्टुअर्ट ब्रॉड और बेन स्टोक्स को एक-एक विकेट मिला।