1. Home
  2. खेल
  3. क्रिकेट
  4. विराट कोहली को रोकना ऑस्ट्रेलिया के...

विराट कोहली को रोकना ऑस्ट्रेलिया के लिए बड़ी चुनौती: माइकल क्लार्क

Written by: India TV Sports Desk 12 Sep 2017, 19:38:56 IST
India TV Sports Desk

नयी दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क का कहना है कि आगामी वनडे सिरीज़ में विराट को रोकना ऑस्ट्रेलिया के लिए मुश्किल चुनौती होगा। वो ज़बर्दस्त फॉर्म में चल रहे हैं ख़ास कर वनडे में वो 30 शतक लगा चुके हैं। उन्होंने कहा कि भारत के लिए विराट कोहली और धोनी दो अहम खिलाड़ी होंगे जबकि ऑस्ट्रेलिया के लिए स्मिथ और वॉर्नर काफी अहम होंगे। इन सबके के बीच दिलचस्प लड़ाई होगी। दोनों टीमें इन खिलाड़ियों को रोकने की कोशिश करेंगी।

टीवी इंडिया के विशेष प्रोग्राम ''क्रिकेट की बात'' में क्लार्क ने कहा कि वनडे प्रारुप में ऑस्ट्रेलिया टीम काफ़ी मज़बूत है लेकिन उसे रोहित शर्मा, शिखर धवन और विराट कोहली को जल्द से जल्द आउट करना पड़ेगा क्योंकि ये तीनों बल्लेबाज़ ज़बरदस्त फ़ॉर्म में चल रहे हैं।

सिरीज़ जीतने के लिए इस ऑस्ट्रेलियाई टीम में काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी

भारत में खेलने के अपने अनुभव के बारे में क्लार्क ने कहा, ''मुझे लगता है कि लंबे वक्त से वनडे क्रिकेट ऑस्ट्रेलियाई टीम की ताक़त रही है... इस साल इस टीम को घरेलू मैदान पर इंग्लैंड के खिलाफ खेलना है ऐसे में ऑस्ट्रेलियाई टीम यहां जीत कर जोश  में आना चाहेगी। ऑस्ट्रेलिया के लिए काफी कड़ा मुकाबला होगा। श्रीलंका को तीनों फॉर्मैट में हराने के बाद भारतीय टीम जोश में नज़र आ रही है। ऑस्ट्रेलिया को दो अहम खिलाड़ी स्टार्क और हेज़लवुड की कमी खलेगी। मुकाबला काफी चुनौती से भरा होगा लेकिन मुझे लगता है कि सीरीज़ जीतने के लिए इस ऑस्ट्रेलियाई टीम में काफी प्रतिभाशाली खिलाड़ी हैं। कप्तान विराट और टॉप के तीन बल्लेबाजों को इन्हें रोकना होगा। मुझे लगता है कि शुरूआती 10 ओवर में अगर हमारे गेंदबाज़ अच्छी और आक्रमक गेंदबाज़ी करते हैं तो सीरीज़ जीतने का हमारे पास मौका होगा।''

ऑस्ट्रेलिया के लिए एग्रेशन दिखाना ज़रुरी

क्लार्क ने कहा, ''वनडे और टी-20 में अहम ये है कि आपको शुरुआती विकेट लेना ज़रुरी है। मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलिया के लिए एग्रेशन दिखाना काफी ज़रुरी है। हमारे पास अच्छे ऑलराउंडर और स्पिनर हैं। रन की परवाह नहीं करनी चाहिए शुरूआती विकेट लेना ज़रुरी है। वनडे के दौरान भारतीय पिचें काफी फ्लैट होती हैं, बैटिंग करना आसान होता है, छोटी बॉउंड्री होंगी। धवन, रोहित और विराट को अगर आप जल्दी आउट कर देते हैं तो आपके पास दबाव बनाने का मौका होगा।'' 

क्या स्लेजिंग देखने को मिलेगी ?

क्लार्क ने स्लेजिंग के सवाल पर कहा, ''मैं उम्मीद करता हूं कि लड़ाई नहीं होगी...जब ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ी एग्रेसिव होते हैं तो बेहतरीन खेल दिखाते हैं.. भारतीय टीम भी कुछ ऐसा ही खेल दिखाती है... अगर स्लेजिंग से फायदा होता है तो जरुर करनी चाहिए... ऑस्ट्रेलिया को अपनी ताकत और कमजोरियों पर काम करना चाहिए.... हाल के दिनों में तीनों फॉर्मेट में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार अच्छा खेल नहीं दिखाया है। ऐसे में ये जरुरी है कि इस बार ऑस्ट्रेलियाई समर से पहले हमारे खिलाड़ी फॉर्म में आ जाए।''