1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. मोदी के सुधारों को मिला मूडीज...

मोदी के सुधारों को मिला मूडीज का साथ, 13 साल बाद भारत की क्रेटिड रेटिंग को सुधार कर किया Baa2

मूडीज ने 13 साल बाद भारत की रेटिंग को अपग्रेड किया है, जो कि भारत की आर्थिक दृष्टि से बड़ा सकारात्‍मक कदम माना जा रहा है।

Abhishek Shrivastava 17 Nov 2017, 11:30:53 IST
Abhishek Shrivastava

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कठोर और सुधारात्‍मक कदमों को अब अमेरिका की सबसे ताकतवर रेटिंग एजेंसी मूडीज इन्‍वेस्‍टर सर्विसेस ने भी अपना समर्थन दे दिया है। मूडीज ने 13 साल बाद भारत की रेटिंग को अपग्रेड किया है, जो कि भारत की आर्थिक दृष्टि से बड़ा सकारात्‍मक कदम माना जा रहा है। मूडीज ने सम्प्रभु देशों की रेटिंग में भारत के स्थान में सुधार करते हुए उसे Baa2 कर दिया है। इससे पहले वर्ष 2004 में संस्था ने भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार करते हुए उसे Baa3 किया था।

वर्ष 2015 में संस्था ने भारत की क्रेडिट रेटिंग को ‘स्थिर’ से बढ़ाकर ‘सकारात्मक’ कर दिया था। Baa3 न्यूनतम निवेश श्रेणी की रेटिंग थी, जो ‘जंक’ दर्जे से थोड़ी सी ही ऊपर है। मूडीज ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि मौजूदा सरकार के आर्थिक और संस्‍थागत सुधारों की वजह से भारत की रेटिंग को स्थिर से सकारात्‍मक किया जा रहा है।

मूडीज ने कहा है कि रेटिंग को अपग्रेड करने का यह फैसला मोदी के उन उम्‍मीदों पर लिया गया है जो कि लगातार आर्थिक और संस्‍थागत सुधारों पर टिकी हुई हैं। यह सुधार आगे भारत की उच्‍च विकास संभावनाओं को बढ़ाएंगे और मध्‍यम अवधि में सामान्‍य सरकारी कर्ज के बोझ को कम करेंगे।

मूडीज ने भारत की लांग टर्म फॉरेन करेंसी बांड रेटिंग को भी बढ़ाकर Baa2 से Baa1 कर दिया है और लांग टर्म फॉरेन करेंसी बैंक डिपॉजिट रेटिंग को Baa3 से अपग्रेड कर Baa2 कर दिया है। शॉर्ट टर्म फॉरेन कंरसी बांड सीलिंग को पी2 पर स्थिर रखा है और शॉर्ट टर्म फॉरेन करेंसी बैंक डिपॉजिट सीलिंग को पी3 से बढ़ाकर पी2 कर दिया है।