1. Home
  2. पैसा
  3. बिज़नेस
  4. बैंक धोखाधड़ी के मामले में ED...

बैंक धोखाधड़ी के मामले में ED ने एक कारोबारी को किया गिरफ्तार, मनी लांड्रिंग का है मामला

प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 5,000 करोड़ रुपए की कथित बैंक धोखाधड़ी मामले में मनी लांड्रिंग जांच में एक कारोबारी को गिरफ्तार किया है।

Manish Mishra 01 Nov 2017, 12:44:12 IST
Manish Mishra

नई दिल्ली। प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने 5,000 करोड़ रुपए की कथित बैंक धोखाधड़ी मामले में मनी लांड्रिंग जांच में एक कारोबारी को गिरफ्तार किया है। यह मामला गुजरात की एक फार्मा कंपनी तथा कुछ अन्य हवाला सौदों से संबंधित है। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी ने आज सुबह गगन धवन को राष्ट्रीय राजधानी से मनी लांड्रिंग रोधक कानून (PMLA) की धाराओं में गिरफ्तार किया। सूत्रों ने कहा कि धवन को आगे की हिरासत के लिए अदालत में पेश किया जाएगा।

सूत्रों ने बताया कि वडोदरा की कंपनी स्टर्लिंग बायोटेक से संबंधित ऋण धोखाधड़ी तथा इसी तरह के कुछ अन्य गैरकानूनी लेनदेन की वजह से धवन पर एजेंसी की निगाह थी। आपराधिक शिकायत के आधार पर ED धवन द्वारा आयकर विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को रिश्वत देने के कथित आरोपों की जांच कर रहा था। एजेंसी ने अगस्त में दिल्ली में धवन और एक पूर्व कांग्रेस विधायक के परिसरों पर छापेमारी की थी।

CBI ने हाल में स्टर्लिंग बायोटेक और उसके निदेशकों चेतन जयंतीलाल संदेसरा, दीप्ति चेतन संदेसरा, राजभूषण ओमप्रकाश दीक्षित, नितिन जयंतीलाल संदेसरा और विलास जोशी, चार्टर्ड अकाउंटेंट हेमंत हाथी, आंध्रा बैंक के पूर्व निदेशक अनूप गर्ग और कुछ अज्ञात लोगों के खिलाफ कथित बैंक धोखाधड़ी का मामला दर्ज किया है।

यह भी पढ़ें : GST पर सरकार ले सकती है एक बड़ा फैसला, कंपनियों के लिए जरूरी होगा MRP में GST का उल्‍लेख करना

यह भी पढ़ें : ग्राहकों की संतुष्टि को लेकर हुए सर्वे में हुंडई अव्वल, मारुति सुजुकी दूसरे और टाटा मोटर्स तीसरे स्‍थान पर