1. Home
  2. लाइफस्टाइल
  3. हेल्थ
  4. Holi Special 2017: गुझिया खरीदने से...

Holi Special 2017: गुझिया खरीदने से पहले जान लें ये बातें

दिल्ली: होली के त्योहार में गुझिया खासतौर से मेहमानों को खिलाया जाता है, यह उत्तर भारत का विशेष रूप से मशहूर पकवान है, इसलिए होली का जश्न मनाने के लिए ताजा और बिना मिलावट वाला गुझिया लाइसेंस प्राप्त दुकान से ही खरीदें। जानिए और बातों के बारें में...

India TV Lifestyle Desk 06 Mar 2017, 14:20:50 IST
India TV Lifestyle Desk

नई दिल्ली: होली के त्योहार में गुझिया खासतौर से मेहमानों को खिलाया जाता है, यह उत्तर भारत का विशेष रूप से मशहूर पकवान है, इसलिए होली का जश्न मनाने के लिए ताजा और बिना मिलावट वाला गुझिया लाइसेंस प्राप्त दुकान से ही खरीदें। वेबसाइट 'फूड सेफ्टी हेल्पलाइन' के संस्थापक सौरभ अरोड़ा ने गुझिया खरीदते समय ध्यान रखने योग्य ये बातें बताई हैं।

ये भी पढ़े

  • पूजा के दौरान दीपक जलाने के य़े फायदे जान हैरान रह जाएंगे आप
  • नींद न आने की है बीमारी, तो करें इन चीजों का सेवन
  • पक्षियों को निहारने से पा सकते है तनाव से निजात, जानिए कैसे
  • कुछ मिठाई की दुकानें अपने गुझिया को 'शुद्ध' घी में तले गुझिया के रूप में प्रचारित करती हैं, जबकि यह मिलावटी वनस्पति (डालडा) या रिफाइन तेल में तला हुआ हो सकता है, इसलिए लाइसेंस प्राप्त विश्वसनीय दुकान से ही गुझिया खरीदें।
  • गुझिया खरीदते समय यह भी ध्यान रखें कि दुकान स्वच्छता के मानक पर खरा उतरता है कि नहीं और उसे शोकेस के अंदर उचित तरीके से रखा गया है कि नहीं।
  • दुकानदार या दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी साफ कपड़े पहने होने चाहिए और गुझिया देते समय वे दस्ताने जरूर पहने होने चाहिए और उन्हें आंख, शरीर के विभिन्न हिस्सों को छूना या छींकना नहीं चाहिए।
  • अगर आपको गुझिया घर पर बनाना है तो स्टार्च की मौजूदगी की जांच के लिए खोया की परख जरूर कर लें। खोए की थोड़ी सी मात्रा खरीदकर घर पर उसे पानी में उबाल लें और ठंडा होने पर इसमें दो बूंद आयोडिन मिला दें, अगर यह नीला पड़ जाता है तो फिर इसका मतलब यह कि स्टार्च के साथ मिलावटी खोया है।

अगली स्लाइड में पढ़े और बातों के बारें में