1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. तीन दिवसीय दौरे पर गुजरात पहुंचे...

तीन दिवसीय दौरे पर गुजरात पहुंचे राहुल गांधी, मिल सकते हैं हार्दिक पटेल से

नवसृजन यात्रा के तीसरे चरण में राहुल भरूच, तापी, वलसाड, नवसारी और सूरत की जनता से रैलियों और नुक्कड़ सभाओं के जरिये जनता का दिल जीतने की कोशिश में हैं। भरुच राहुल के दादाजी फिरोज गांधी का गृह जिला है। फिरोज गांधी का बचपन भी भरुच में ही बीता था। वो यह

Written by: India TV News Desk 01 Nov 2017, 11:23:47 IST
India TV News Desk

नई दिल्ली: कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजारातियों का दिल जीतने के लिए एक बार फिर गुजरात में है। राहुल तीन दिन गुजरात में रहेंगे जहां वो रैलियों और नुक्कड़ सभाओं के जरिये कांग्रेस को सत्ता में लाने की अपील करेंगे। कहा जा रहा है कि अपने दौरे के दौरान वो पाटीदार नेता हार्दिक पटेल से भी मिल सकते हैं। राहुल आज से अगले दो दिन तक गुजरात की जनता को ये बताने की कोशिश करेंगे कि गुजरात का विकास सिर्फ और सिर्फ अब कांग्रेस कर सकती है।

नवसृजन यात्रा के तीसरे चरण में राहुल भरूच, तापी, वलसाड, नवसारी और सूरत की जनता से रैलियों और नुक्कड़ सभाओं के जरिये जनता का दिल जीतने की कोशिश में हैं। भरुच राहुल के दादाजी फिरोज गांधी का गृह जिला है। फिरोज गांधी का बचपन भी भरुच में ही बीता था। वो यहां से निकलकर मुंबई चले गए थे। बता दें कि भरुच कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के राजनीतिक सलाहकार और राज्यसभा सांसद अहमद पटेल का भी गृह जिला है।

भरुच उस वक्त सुर्खियों में आया था जब सरदार पटेल अस्पताल में आईएसआईएस का संदिग्ध आतंकी के काम करने की बात सामने आई थी। गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपाणी ने सांसद अहमद पटेल को अस्पताल का कर्ताधर्ता बताया था, जिसके बाद से कांग्रेस भाजपा के निशाने पर थी।

राहुल का आज का दिन काफी व्यस्त रहने वाला है।

  • 12.30 बजे - भरूच में राहुल की किसानों से मुलाकात
  • 3.45 बजे - अंकलेश्वर जिले के वालिया चौकड़ी में नुक्कड़ सभा
  • 4.40 बजे- भरुच के वालिया में राहुल का स्वागत
  • 5.30 बजे- सूरत के जांखवाव गांव में नुक्कड़ सभा
  • 6.30 बजे- सूरत के मांडवी में नुक्कड़ सभा
  • 7.25 बजे- सूरत के माधी में राहुल का स्वागत
  • राहुल तापी के व्यारा सर्किट हाउस में रात गुजारेंगे

दक्षिणी गुजरात 90 के दशक तक कांग्रेस का गढ रहा लेकिन पिछले डेढ दशक से इस इलाके में कांग्रेस की पकड़ ढीली पड़ी और भाजपा मजबूत हुई। यहां तक की सूरत शहर की सभी सीट भाजपा के पास है। यही वजह है कि राहुल नवसृजन यात्रा के जरिये गुजरात में कांग्रेस की पैठ बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। राहुल ने गुजरात का पहला दौरा छब्बीस से 28 सितंबर को किया था।

कब-कब किया दौरा?

  • राहुल गांधी की नवसृजन यात्रा का तीसरा चरण
  • 1 से 3 नवंबर तक गुजरात दौरे पर राहुल गांधी
  • नवसृजन यात्रा का पहला चरण 26 से 28 सितंबर था
  • 9 से 11 अक्टूबर को राहुल दूसरी बार गुजरात में थे
  • 23 अक्टूबर को राहुल अल्पेश ठाकोर की रैली में थे
  • रैली में राहुल ने जीएसटी को गब्बर सिंह टैक्स बताया था

खबर है कि राहुल गांधी अपने दौरे के दौरान पाटीदार नेता हार्दिक पटेल और दलित नेता जिग्नेश मेवाणी से मिल सकते हैं। मंगलवार को दिल्ली में जिग्नेश से राहुल की मुलाकात होनी थी पर ऐन वक्त दोनों की मुलाकात नहीं हो पाई लेकिन दावा किया जा रहा है दोनों की जल्द मुलाकात होगी। जहां तक हार्दिक पटेल से चल रही बातचीत का सवाल है तो कांग्रेस के सूत्र बता रहे हैं कि वो भी जल्दी ही सुलझ जाएगी और हार्दिक भी कांग्रेस का समर्थन करेंगे। कांग्रेस के सूत्र का दावा है कि हार्दिक और जिग्नेश के कांग्रेस को समर्थन देने को लेकर कोई कन्फ्यूजन नहीं है।

इन्हीं उम्मीदों के बीच आज से राहुल गांधी तीन दिन के गुजरात दौरे पर हैं। राहुल गांधी दक्षिण गुजरात में जब पाटिदारों को अपने खेमे में लाने की कोशिश में रहेंगे तब उसी वक्त दो नवंबर को प्रधानमंत्री मोदी भी पाटिदारों को मनाने के लिए अक्षरधाम मंदिर के रजत जयंती समारोह में शामिल हो सकते हैं। दरअसल, गांधीनगर के अक्षरधाम मंदिर से बड़ी तादात में पाटीदार भी जुड़े हैं।

नौ और 14 दिसंबर को चुनाव से पहले पाटिदारों को अपने-अपने खेमे में लाने को लेकर जंग तेज हो गई है। कांग्रेस की कोशिश है कि टिकट बंटवारे से पहले वो हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवाणी से गठबंधन की बात फाइनल कर ले। अपने गुजरात दौरे पर निकले राहुल पिछली बार की तरह इस बार भी मंदिर का दर्शन करेंगे। वो उनाई माता के दर पर मथ्था टेकेंगे। अपने पहले दौरों में राहुल ने द्वारकाद्धीश मंदिर, चामुंडा मंदिर और जलराम मंदिर में दर्शन किये थे।