1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई पर राजनीति...

आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई पर राजनीति नहीं होनी चाहिए: नीतीश

IANS 17 Oct 2016, 19:58:51
IANS

बिहारशरीफ: जनता दल (युनाइटेड) के अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां सोमवार को कहा कि आतंकवाद एक राष्ट्रीय मुद्दा है और इसके खिलाफ लड़ाई को देश की अंदरूनी राजनीति की लड़ाई नहीं बनाया जाना चाहिए। मुख्यमंत्री ने 'तीन तलाक' के मुद्दे पर भी केंद्र सरकार को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि यह मुद्दा मुस्लिम धर्मगुरुओं पर छोड़ देना चाहिए। 

देश-दुनिया की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

नीतीश नालंदा के राजगीर में जद (यू) की दो दिवसीय राष्ट्रीय परिषद की बैठक के दूसरे दिन खुले अधिवेशन को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने देश में समान नागरिक संहिता को गैरजरूरी बताते हुए कहा कि विविधता ही अपने देश की खासियत है। उन्होंने केंद्र सरकार से सवाल किया, "आप समान नागरिक संहिता बनाने और तीन तलाक को खत्म करने वाले कौन होते हैं?"

नीतीश ने आतंकवाद की चर्चा करते हुए कहा, "पूरा देश आतंकवाद के मुद्दे पर एकजुट है। जद (यू) आतंकवाद के मुद्दे पर किसी भी निर्णय में केंद्र सरकार और सेना के साथ है, लेकिन जब इसका इस्तेमाल राजनीतिक फायदे के लिए किया जाएगा, तब हमारी पार्टी विरोध करेगी।" 

पूर्व केंद्रीय मंत्री नीतीश ने पार्टी अध्यक्ष का दायित्व मिलने पर कहा, "मुझे अब काम करने की आदत हो गई है। मैं जिम्मेदारियों से कभी भागूंगा भी नहीं। जद (यू) के लोग जिस राज्य में भी बुलाएंगे, मैं वहां जाऊंगा मगर बिहार के लिए काम करता रहूंगा।" उन्होंने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर निशाना साधते हुए कहा कि भाजपा में अब कोई दम नहीं है। यह केवल प्रचार के बल पर जीवित है।