1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. मायावती ने दी चेतावनी, 'अगर अन्याय...

मायावती ने दी चेतावनी, 'अगर अन्याय जारी रहा तो मैं समर्थकों के साथ बौद्ध धर्म अपना लूंगी'

बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की अध्यक्ष मायावती ने यहां मंगलवार को कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की सरकार दलितों व पिछड़ों के साथ अन्याय कर रही है।

Edited by: Khabarindiatv.com 24 Oct 2017, 17:51:08 IST
Khabarindiatv.com

आजमगढ़ (उप्र): बहुजन समाज पार्टी (BSP) की अध्यक्ष मायावती ने यहां मंगलवार को कार्यकर्ता सम्मेलन में कहा कि केंद्र और उत्तर प्रदेश की सरकार दलितों व पिछड़ों के साथ अन्याय कर रही है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि भाजपा ने दलितों, मुस्लिमों और दबे-कुचले लोगों को सताना बंद नहीं किया, तो वह समर्थकों के साथ बौद्ध धर्म अपना लेंगी। रानी की सराय स्थित चेकपोस्ट मैदान में आयोजित सम्मेलन में मायावती ने कहा, "भाजपा जातीय संघर्ष करवा कर वोटबैंक की राजनीतिक चाल चल रही है। इसे किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। अब जनता जाग गई है, आने वाले निकाय चुनाव में बसपा मजूबत होगी।" 

उन्होंने कहा कि केंद्र और उप्र सहित देश के कई राज्यों में भाजपा आरएसएस की विचारधारा को लागू करने में लगी है। वह हिंदुत्व के मुद्दे पर आगे बढ़ रही है और दलित व मुसलमानों को प्रताड़ित कर रही है, लेकिन प्रधानमंत्री नए भारत के निर्माण की बात कहकर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। भाजपा कैसा नया भारत बनाएगी, अंदाजा लगाया जा सकता है। मायावती ने सहारनपुर हिंसा का जिक्र करते हुए कहा, "शब्बीरपुर गांव में सोची-समझी साजिश के तहत भाजपा ने दलितों के बीच संघर्ष कराया और मेरी हत्या की साजिश की, ताकि मेरे साथ ही बसपा का सफाया हो जाए। लेकिन वे कामयाब नहीं हो पाए।"

दलितों के खिलाफ हिंसा के मुद्दे पर राज्यसभा से इस्तीफा दे चुकीं मायावती ने कहा, "जब मैंने राज्यसभा में तथ्यों के साथ बात रखी, तो सत्ता पक्ष के लोगों ने शोरगुल किया और मुझे बोलने नहीं दिया। इस वजह से मुझे 18 जुलाई को राज्यसभा की सदस्य पद से इस्तीफा देना पड़ा। जब हम देश की सबसे बड़ी संस्था में गरीब और दलितों के हित की बात नहीं रख सकते तो मेरे लिए राज्यसभा में बने रहने का औचित्य नहीं था।" 

मायावती ने कहा कि पीएम मोदी विदेश में अपनी छोटी-छोटी उपलब्धि बता रहे हैं। लेकिन अपने किसी भी वायदे को पूरा नहीं किया। उन्होंने ईवीएम में गड़बड़ी का जिक्र किया और कहा, "भाजपा लोकसभा चुनाव में वोट बैंक को मजबूत करने के लिए फिर से सर्जिकल स्ट्राइक का नाटक कर सकती है। चुनाव से पहले भाजपा सांठगांठ से दाऊद को इब्राहिम को भारत ला सकती है। हमें भाजपा के फर्जी दावों में नहीं पड़ना है। हम लोगों को भाजपा के झांसे से बाहर लाएंगे। भाजपा के लिए अब आने वाले दिन अच्छे नहीं हैं।" मायावती ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि इस तरह के बहकावे में आकर आप भाजपा को वोट मत देना।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, "योगी पूर्वाचल का विकास तब करेंगे जब उन्हें फुर्सत मिलेगी। वाराणसी, अयोध्या, मथुरा और चित्रकुट में कितनी भी पूजा कर लें धर्म के सहारे भी जीत नहीं होगी। अयोध्या में राम मंदिर बनने से किसी भी दलित का विकास नहीं होगा। दलितों के लिए भगवान बाबा साहेब अंबेडकर ही हैं।"