1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. गुजरात में खुलेगा कैशकांड का सच,...

गुजरात में खुलेगा कैशकांड का सच, नरेन्द्र पटेल रखेंगे सबूत सामने?

नोटकांड की प्रेस कॉंफ्रेंस करते वक्त नरेन्द्र पटेल बार-बार ये कहते रहे कि वो पाटीदार समाज के लिए समर्पित हैं और भाजपा के खिलाफ किसी भी हद तक जाएंगे। वहीं भाजपा ने नरेन्द्र पटेल के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए जांच की मांग की है। भाजपा के नेता इसे का

Written by: India TV News Desk 24 Oct 2017, 8:12:08 IST
India TV News Desk

नई दिल्ली: नोटों की गड्डियां दिखाने के बाद नरेन्द्र पटेल अब दावा कर रहे हैं कि उनके पास वो सीडी है जिसमें नोटकांड की बातचीत रिकॉर्ड है जिसे वे आज सार्वजनिक कर सकते हैं। बता दें कि पाटीदार समाज के नेता और हार्दिक पटेल के करीबी नरेन्द्र पटेल ने भाजपा में शामिल होने के लिए 1 करोड़ रुपये देने का आरोप लगाया था। नरेन्द्र पटेल ने दिन में भाजपा की सदस्यता ली थी और देर शाम को 10 लाख रुपया कैश लेकर मीडिया के सामने पहुंच गये। नरेन्द्र ने दावा किया था कि दस लाख की रकम उनको एडवांस के तौर पर दी गई है।

नोटकांड की प्रेस कॉंफ्रेंस करते वक्त नरेन्द्र पटेल बार-बार ये कहते रहे कि वो पाटीदार समाज के लिए समर्पित हैं और भाजपा के खिलाफ किसी भी हद तक जाएंगे। वहीं भाजपा ने नरेन्द्र पटेल के आरोपों को बेबुनियाद बताते हुए जांच की मांग की है। भाजपा के नेता इसे कांग्रेस की साज़िश करार दे रहे हैं। गुजरात भाजपा के नेता भरत पांड्या ने कहा कि ये नरेन्द्र पटेल का पब्लिसिटी स्टंट है।

अब नरेन्द्र पटेल के सबूतों का इंतजार बढ़ता जा रहा है क्योंकि नोटकांड एक ब़डा मुद्दा बन चुका है। अब नरेन्द्र पटेल को अपना ये दावा साबित करना है कि ये नोट उन्हें भाजपा से मिले क्योंकि हर तरफ वार पलटवार की तैयारी शुरू हो चुकी है।

वहीं दूसरी ओर नोटकांड के बाद उठा सियासी भूचाल अब हर रोज़ नए झटके दे रहा है। नोटकांड का जवाब देने के लिए भाजपा में शामिल हुई रेशमा और वरुण पटेल की प्रेस कॉंफ्रेंस में जमकर हंगामा किया गया। नतीजा ये हुआ कि रेशमा और वरुण को इसे रद्द करना पड़ा। रेशमा का आरोप है कि कांग्रेस के समर्थकों ने उन्हें बोलने नहीं दिया।