1. Home
  2. भारत
  3. राजनीति
  4. आजम खान बोले, ‘मुझे चाय बनानी...

आजम खान बोले, ‘मुझे चाय बनानी आती है और ड्रम बजाना भी, अब PM बना दो’

IANS 18 Oct 2016, 18:26:46
IANS

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री आजम खां ने मंगलवार को एक बार फिर नाम लिए बिना प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा। उन्होंने कहा, "भाई मुझे चाय बनानी आती है और तो और मुझे ड्रम बजाना भी आता है। अब तो मुझको देश का प्रधानमंत्री बना दो।"

बता दें कि आजम खां सहारनपुर के जनमंच सभागार में ई-रिक्शा वितरण कार्यक्रम में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, "अगर मुझे प्रधानमंत्री बना दोगे तो उत्तर प्रदेश ही नहीं, देश के हर नागरिक के खाते में 25-25 लाख रुपये भिजवा दूंगा।" यह सुन सभी लोग हंसने लगे और समझ गए कि किसको निशाना बनाकर 'जुमलेबाजी' कर रहे हैं।

(देश-विदेश की बड़ी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें)

आजम ने तीन तलाक मुद्दे को लेकर भाजपा और आरएसएस के नेताओं पर तीखा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि तलाक की बात वो करें, जिनकी बीवी हो। गुजरात में महिलाओं पर अत्याचार करने वाले या स्वयं शादीशुदा होते हुए भी तलाक जैसा जीवन यापन करने वालों को तलाक के मसले पर कुछ बोलने का अधिकार नहीं है।

उन्होंने कहा, "अच्छे दिन लाने का सपना दिखाने का वादा करके वो बादशाह तो बन गए, पर उनके बादशाह बनने के बाद भी अधिकांश लोगों के पास पहनने के लिए कपड़े नहीं हैं। 60 फीसद आबादी को भरपेट खाना नहीं मिल रहा है। इसके बाद भी वो चुपके से पाकिस्तान में जाकर मोस्टवांटेड अपराधी दाऊद इब्राहिम से मिल आते हैं।"

आजम ने प्रसंग बदलते हुए कहा कि आजादी के बाद उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव नंबर वन मुख्यमंत्री हैं। यह बात दीगर है कि मोदी के इशारे पर चल रहा इलेक्ट्रॉनिक मीडिया प्रदेश सरकार की अच्छी योजनाओं का प्रचार-प्रसार करने में सहयोग नहीं कर रहा है।

आजम खां ने कहा, "मेरे पीछे इतने कुत्ते लगे हैं कि मैं अगर इन्हें भगाने पर उतरूं तो सारी जिंदगी कुत्ते ही भगाता रहूंगा, आगे चलूंगा ही नहीं।" उन्होंने कहा, "मैं लगातार कह रहा हूं कि मुझे प्रधानमंत्री बनाओ। मैं देश चला कर दिखाऊंगा। मेरे तजुर्बे में, मेरी ईमानदारी में, मेरे स्टेटस में, मेरी शिक्षा में क्या कमी है, बस सिवाय ये कि मैं एक मुसलमान हूं।"

आजम ने यह भी कहा, "अखंड भारत का सपना मैं ही पूरा कर सकता हूं। मुजफ्फरनगर में दंगा कराकर भाजपाइयों ने केंद्र में सरकार बना ली। भाजपा आरएसएस की मदद से फिर कहीं दंगा कराकर उत्तर प्रदेश में कुर्सी हथियाने का सपना देख रही है, जो कभी पूरा नहीं होगा। क्यों? इसलिए कि प्रदेश की जनता झूठे बादशाह की हकीकत जान चुकी है।"