1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. भारत-जापान के बीच हुए 15 समझौते,...

भारत-जापान के बीच हुए 15 समझौते, शिंजो आबे बोले- ‘जय जापान, जय इंडिया’

Written by: Khabarindiatv.com 14 Sep 2017, 17:58:31 IST
Khabarindiatv.com

गांधीनगर: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कारोबार, निवेश, आधारभूत ढांचा विकास, परमाणु र्जा के शांतिपूर्ण उपयोग समेत द्विपक्षीय, क्षेत्रीय, वैकि स्तर जापान के साथ संबंधों को बेहद घनिष्ठ और विशेष बताते हुए कहा कि भारत के आर्थिक विकास और सुनहरे कल के प्रति जापान में आशावादी वातावरण है और भारत में जापान के कारोबारियों के लिए बहुत बड़ा मौका है।

जापान-भारत वार्षिक बैठक के बाद संयुक्त संवाददाता सम्मेलन को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पिछले वर्ष मेरी जापान यात्रा के समय हमने परमाणु उर्जा के शांतिपूर्ण उपयोग के लिए एक ऐतिहासिक समझाौता किया था। इसके अनुमोदन के लिए मैं जापान के जनमानस, जापान की संसद और प्रधानमंत्री आबे का ह्रदय से आभार प्रकट करता हूं। स्वच्छ र्जा और जलवायु परिवर्तन के विषय पर हमारे सहयोग के लिए इस समझाौते ने एक नया अध्याय जोड़ा है।

‘भारत में जापान के कारोबारियों के लिए बहुत बड़ा मौका है’

मोदी ने कहा कि 2016-17 में भारत में जापान से 4.7 अरब डॉलर का निवेश हुआ है, जो कि पिछले वर्ष की तुलना में 80 प्रतिशत अधिक है। अब जापान भारत में तीसरा सबसे बड़ा निवेशक है। यह दर्शाता है कि भारत के आर्थिक विकास और सुनहरे कल के प्रति जापान में कितना विश्वास और आशावादी वातावरण है। उन्होंने कहा कि और इस निवेश को देख कर यह अनुमान लगाया जा सकता है कि आने वाले समय में भारत और जापान के बीच बढ़ते कारोबार के साथ लोगों से लोगों के संबंध भी बढ़ेंगे।

ये भी पढ़ें

मोदी ने कहा कि कारोबार के अनुकूल माहौल की बात हो या स्किल इंडिया, कर सुधार हो या मेक इन इंडिया..... भारत पूरी तरह बदल रहा है। जापान के कारोबारियों के लिए यह बहुत बड़ा मौका है। और मुझे प्रसन्नता है कि जापान की कई कंपनियां हमारे राष्ट्रीय महत्वकांक्षी कार्यक्रमों से गहरे रूप से जुड़ रही हैं।

जापानियों के लिए कूल बॉक्स सर्विस

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि हमने जापान के नागरिकों के लिए आगमन पर वीजा की सुविधा तो पहले से ही दे रखी है। और अब हम इंडिया पोस्ट और जापान पोस्ट के सहयोग से एक कूल बॉक्स सर्विस भी शुरू करने जा रहे हैं, ताकि भारत में रह रहे जापानी लोग सीधा जापान से अपने पसंदीदा भोजन मंगा सकें। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि मेरा जापानी कारोबारी समुदाय से यह भी अनुरोध है कि भारत में अधिकाधिक जापानी रेस्तरां खोलें आज भारत कई स्तरों पर आमूलचूल परिवर्तन की राह पर चल रहा है।

भारत और जापान ने किए 15 समझौतों पर हस्ताक्षर

भारत और जापान ने द्विपक्षीय मुलाकात में रक्षा, परिवहन समेत कई क्षेत्रों में 15 समझौतों पर हस्ताक्षर किए।  दोनों देशों के बीच रक्षा, सिविल न्यूक्लियर, ट्रांसपोर्टेशन को लेकर बड़ा समझौता हुआ है। नेवी के लिए प्लेन बनाने पर डील पर जहां मुहर लगी वहीं न्यूक्लियर पॉवर प्लांट बनाने के लिए समझौता हुआ। मिशन मेक इन इंडिया के तहत कई प्रोजेक्ट पर काम होंगे

जापान की आधिकारिक विकास सहयोग में हम सबसे बड़े सहयोगी हैं: मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि आज शाम को दोनों देशों के कारोबारी नेताओं के साथ हमारी बातचीत और कार्यक्रम में हमें इसके प्रत्यक्ष लाभ भी देखने को मिलेंगे। जापान की आधिकारिक विकास सहयोग में हम सबसे बड़े सहयोगी हैं, और विभिन्न क्षेत्रों की परियोजनाओं के लिए आज हुए समझौतों का मैं हार्दिक स्वागत करता हूं। प्रधानमंत्री ने कहा कि मुझे प्रसन्नता है कि मेरे मित्र प्रधानमंत्री शिंजो आबे का भारत में और विशेष रूप से गुजरात में, स्वागत करने का अवसर मुझे मिला है। प्रधानमन्त्री आबे और मैं कई बार अंतंर्राष्ट्रीय सम्मेलनों से इतर मिले हैं। लेकिन भारत में उनका स्वागत करना मेरे लिए विशेष रूप से हर्ष का विषय होता है।

'जय जापान, जय इंडिया'

वहीं, अहमदाबाद में बुलेट ट्रेन के उद्घाटन के मौके पर जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने कहा कि जापान का JA और इंडिया का I, हिंदी में बनता है JAI, जिसका मतलब होता है विजयी। जय जापान, जय इंडिया।