1. Home
  2. भारत
  3. राष्ट्रीय
  4. कानपुर रेल दुर्घटना : मृतकों की...

कानपुर रेल दुर्घटना : मृतकों की संख्या बढ़कर 142 हुई

India TV News Desk 21 Nov 2016, 13:53:01
India TV News Desk

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में कानपुर के पुखरायां में रविवार सुबह इंदौर से पटना जा रही इंदौर-राजेन्द्र नगर एक्सप्रेस की दुर्घटना में मृतकों की संख्या बढ़कर 142 तक पहुंच गई है। यह रेल दुर्घटना देश के सबसे भयावह रेल दुर्घटनाओं में से है।

यूपी पुलिस के महानिरीक्षक जकी अहमद ने आईएएनएस को बताया, "मृतकों की संख्या बढ़कर 142 हो गई है और 59 लोग अभी भी अस्पताल में भर्ती हैं।"

इस घटना में 150 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। रविवार को कानपुर से लगभग 60 किलोमीटर दूर पुखरायां स्टेशन के पास इस रेलगाड़ी के 14 डिब्बे पटरी से उतर गए थे।

उन्होंने बताया कि हादसे के बाद से ही जिले के हैलट अस्पताल सहित कई अस्पतालों में 150 से अधिक लोगों का इलाज चल रहा है। हादसे में अब तक 58 मृतकों की पहचान हो चुकी है। 

इससे पूर्व रविवार देर रात को रेल हादसे में घायलों का हालचाल लेने हैलट अस्पताल पहुंचे रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि पुखरायां हादसे की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं। रेलवे राज्य सरकार के साथ मिलकर राहत पहुंचाने की कोशिश कर रही है। 

रेल राज्यमंत्री मनोज सिन्हा भी रविवार को घटनास्थल पर पहुंचे थे। उन्होंने अधिकारियों को सख्त दिशानिर्देश देते हुए कहा था कि राहत और बचाव कार्य और तेज करने के निर्देश दिए थे।

गौरतलब है कि इंदौर-पटना एक्सप्रेस रविवार तड़के कानपुर के पुखरायां में हादसे का शिकार हो गई थी। इस हादसे में अभी तक 130 लोग मारे जा चुके हैं जबकि 150 से अधिक घायलों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज चल रहा है। हादसे की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए गए हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस हादसे पर दुख जताया और बताया कि उन्होंने रेलमंत्री सुरेश प्रभु से बात की है, जो कि खुद हालात पर करीबी नजर रखे हुए हैं।

इन्हें भी पढ़ें:

उत्तर-मध्य रेलवे के प्रवक्ता विजय कुमार ने कहा कि डॉक्टर और रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं। जिला प्रशासन और रेलवे के अधिकारी राहत एवं बचाव अभियानों में जुटे हैं। रेल के डिब्बों के पटरी से उतर जाने के कारणों का तत्काल पता नहीं चल पाया है लेकिन सूत्रों का कहना है कि इस दुर्घटना की प्रकृति और समय यह दिखाते हैं कि दुर्घटना पटरी में टूट-फूट के कारण हुई है। हालांकि असल वजह का पता जांच के बाद ही चल पाएगा। कुमार ने कहा कि यात्रियों को उनकी आगे की यात्रा में मदद करने के लिए बसें तैनात कर दी गई हैं। उन्होंने कहा कि डिब्बा संख्या एस 2 बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया है। चार एसी डिब्बे भी पटरी से उतर गए हैं।

इसी बीच रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने इस रेल हादसे की जांच के आदेश दिए हैं। प्रभु ने ट्वीट कर कहा, दुर्भाग्यपूर्ण दुर्घटना से निपटने के लिए सभी राहत कार्य शुरू कर दिए गए हैं। सभी चिकित्सीय एवं अन्य मदद पहुंचा दी गई हैं। जांच के आदेश जारी कर दिए हैं। स्थिति पर करीबी नजर रखी जा रही है।

रेलवे ने इस हादसे से जुड़ी जानकारी के लिए हेल्‍पलाइन नंबर जारी किए हैं। पटना - 0612- 2202290, 0612-2202291, 0612-2202292, मुगलसराय-  05412-251258, 05412-254145, हाजीपुर- 06224-272230, झांसी - 05101072, उरई- 051621072, कानपुर - 05121072, पुखरयां- 05113-270239